//

पटवारी संघ की हड़ताल, सरकार से कर रहे ये मांग

भोपाल। मध्यप्रदेश में अब पटवारी संघ ने अपनीं 3 सूत्रीय मांगों को लेकर प्रदेश सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। प्रदेश भर में दो अगस्त से पटवारी संघ सामूहिक अवकाश पर हैं। पटवारियों ने अपनी आवश्यक और उचित मांगों को शासन और प्रशासन के सामने रखकर अपने आंदोलन की रूपरेखा 29 जून को ही तय कर दी थी।

पटवारियों ने प्रदेश भर में जिला प्रशासन को जून में सौंपे। एक ज्ञापन में यह स्पष्ट कर दिया था कि अगर उनकी मांगे नहीं मानी गई तो वे क्रमबद्घ ढंग से आंदोलन की तरफ बढ़ जाएंगे। भोपाल में जिला अध्यक्ष ब्रज किशोर नागर के नेतृत्व में मंगलवार को जिलेभर के पटवारियों ने जिला प्रशासन को एक ज्ञापन सौंपा है। जिसमें पटवारियों की ग्रेड सहित कई अन्य मांगे शामिल की गई हैं। उनकी मांग है कि समयमान वेतनमान की विसंगतियों को दूर किया जाए और, गृह जिले में पदस्थापना सहित नवीन पटवारियों की सीपीसीटी के अनिवार्यता संबंधी नियम को समाप्त किया जाए ।

जिलाध्यक्ष पटवारी संघ बृज किशोर नागर ने बताया कि 2 अगस्त से 4 अगस्त तक पटवारी संघ सामूहिक अवकाश पर रहेंगे। 5 अगस्त को सारा वेब पोर्टल रेप जीआईएस सहित समस्त ऑनलाइन कार्य का बहिष्कार पटवारी करेंगे। 10 अगस्त को पटवारी अनिश्चितकालीन कलम बंद हड़ताल पर चले जाएंगे। इस दौरान राजस्व का काफी कार्य प्रभावित होगा।

मृदुभाषी के लिए भोपाल से ताहिर खान की रिपोर्ट