//

महिलाओं द्वारा संचालित आई बसों का लोकार्पण, मंत्री और आयुक्त ने दिखाई हरी झंडी

इंदौर। AICTSL द्वारा महिला सशक्तिकरण को लेकर पिंक बस की शुरुआत की जाना थी, जिसमें सोमवार को मंत्री उषा ठाकुर और निगम आयुक्त प्रतिभा पाल ने गुब्बारे उड़ाकर बस को हरी झंडी दिखाई।

इस दौरान यातायात विभाग के अधिकारी भी मौजूद रहे। आत्मनिर्भरता का स्टीयरिंग थामे महिला चालक रितु नरवाले मंत्री उषा ठाकुर और आयुक्त प्रतिभा पाल को लेकर पिंक सिटी बस में निकली। इसके पहले मंत्री व आयुक्त ने एआईसीटीएसएल परिसर से बाहर निकालने के पहले गुब्बारे दिखाकर संकेत दिया। दोनों ने बीआरटीएस में कुछ दूरी तक सैर भी की। उन्होंने बताया कि इससे महिला सशक्तिकरण को नई दिशा मिलेगी।

बस का ट्रायल रन सफलतापूर्वक किया गया था

एआईसीटीएसएल की तरफ से जानकारी देते हुए बताया गया कि 2 सितंबर से महिला चालक के साथ पिंक बस का ट्रायल रन सफलतापूर्वक किया गया था। इन बसों में सीसीटीवी कैमरे, ऑन बोर्ड यूनिट, सेंसर डोर लगे हुए है। यह सुबह 8 बजे से दोपहर 3 बजे तक 5 फेरे (निरंजनपुर – राजीव गांधी – निरंजनपुर) लगाएंगी। वहीं इसका परिचालन रात 10:15 तक किया जाएगा। प्रतिदिन इन दो पिंक बसों में लगभग 2000 महिलाएं सफर करती हैं। लक्ष्मी असवरा और पुष्पा चौहान परिचालक के रूप में पूर्व से कार्यरत हैं।