/

जुम्मे की नमाज के बाद होगी तालिबान की ताजपोशी, ऐसा होगा नया निजाम

Start

Taliban: अफगानिस्तान में तालिबान के कब्जा जमाने के बाद शुक्रवार को जुम्मे की नमाज के बाद तालिबान मुल्क की सत्ता पर अधिकारित रूप से काबिज हो जाएगा। तालिबान के वरिष्ठ नेताओं ने गुरुवार को इस बात का एलान करते हुए सरकार गठन की योजना का खुलासा किया।

हेबतुल्ला अखुंदजादा होंगे सुप्रीम

तालिबान के वरिष्ठ नेताओं ने तालिबानी सरकार का खाका पेश करते हुप कहा कि शुक्रवार को जुमे की नमाज के बाद सरकार गठन की औपचारिक प्रक्रिया पूरी की जा सकती है। इस योजना के मुताबिक धार्मिक नेता मुल्ला हेबतुल्ला अखुंदजादा को देश का सर्वोच्च पद की जिम्मेदारी दी जाएगी। तालिबान का कहना है कि अफगानिस्तान में सरकार निर्माण की रूपरेखा तैयार की जा चुकी है और इस पर सहमति भी बन चुकी है। अफगानिस्तान में तालिबान की सरकार ईरान की तर्ज पर बनेगी।

धार्मिक नेता के हाथ में रहेगी कमान

तालिबान के वरिष्ठ नेता अहमदुल्लाह मुत्तकी ने सोशल मीडिया पर जानकारी देते हुए बताया कि राष्ट्रपति भवन में एक समारोह की तैयारी हो रही है। धार्मिक नेता मुल्ला हेबतुल्ला अखुंदजादा मुल्क के सबसे बड़े राजनीतिक और धार्मिक प्राधिकारी होंगे। अखुंदजादा का ओहदा राष्ट्रपति से भी ऊपर होगा और वह सेना, सरकार तथा न्याय व्यवस्था के प्रमुखों की नियुक्ति कर सकेंगे। देश के राजनीतिक, धार्मिक और सैन्य मामलों में उनका निर्णय अंतिम माना जाएगा।

इस्लामिक व्यवस्था से चलेगा देश

अफगानिस्तान में नया निजाम ईरान के इस्लामिक ढांचे के तहत कार्य करेगा। इसके तहत धार्मिक नेता के हाथों में देश की कमान होती है और सभी जरूरी फैसले उसकी सहमति के बगैर नहीं लिए जाते हैं। अर्थव्यवस्था से लेकर प्रतिरक्षा तक में सर्वोच्च नेता का फैसला ही अंतिम माना जाएगा।