/

लुटेरी दुल्हनों ने विदेश की ख्वाहिश पालने वाले 3600 दुल्हों से 5 साल में ठगे 150 करोड़ रुपए

Start

चंडीगढ़। पंजाब में बड़ी संख्या में लोग विदेश जाने की ख्वाहिश रखते हैं और इनमें से कई जालसाजी के चक्कर में पढ़कर अपना सब कुछ गंवा देते हैं। आंकड़ों के मुताबिक बेहतर जिंदगी का ख्वाब पाले हजारों लोग अभी तक धोखेबाजी का शिकार हो चुके हैं।

कॉन्ट्रैक्ट मैरिज से धोखाधड़ी

पंजाब में कॉन्ट्रैक्ट मैरिज के जरिए विदेशों में बसने की चाहत युवाओं में लगातार बढ़ती जा रही है। एक जानकारी के मुताबिक अब तक 3,600 पंजाबी लड़के फर्जी शादियों का शिकार हो चुके हैं और इस जालसाजी में उनको 150 करोड़ रुपए की चपत लग चुकी है। विदेश मंत्रालय के सामने अभी तक इस तरह के 3,300 से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं। पिछले 6 महीनों में ही इस तरह की धोखाधड़ी के 200 मामले सामने आ चुके हैं।

40 लाख तक होते हैं खर्च

आंकड़ों पर नजर डालें तो रोजाना दो 2 लड़के विदेश जाने के चक्कर में ठगे जा रहे हैं। विदेशों से जुड़ा मामला होने की वजह से ऐसे ज्यादातर मामलों में न्याय नहीं मिल पाता है। परिजनों ने अपने बेटों को विदेश भेजने के उद्देश से आईलेट्स (इंटरनेशनल इंग्लिश लैंग्वेज टेस्ट सिस्टम) पास युवतियों से शादी करवाई। विदेश जाने की सारी कवायद पर करीब 40 लाख रुपए तक खर्च किए, लेकिन विदेश जाकर युवतियां मुकर गईं और लड़कों को वहां बुलाने से इनकार कर दिया। ये लड़कियां विदेश जाकर अपनै नाम-पते तक बदल लेती है।

जालसाज बनाते हैं शिकार

इस तरह के धोखे के ज्यादातर गांव के लोग शिकार होते हैं, लेकिन इसके साथ ही पुलिस, इंजीनियर और सरकारी अधिकारियों के बेटे भी इस जालसाजी में अक्सर फंस जाते हैं। पिछले तीन महीनों में लुधियाना में 30, जालंधर में 70 मामले कॉन्ट्रैक्ट मैरिज के बाद धोखे के दर्ज हुए हैं।