/////

9वीं से 12वीं तक के स्टूडेंट्स की ऑनलाइन क्लासेस शुरू, इस चैनल पर की गई है व्यवस्था

Start

भोपाल। मध्यप्रदेश में फिलहाल स्कूल बंद रहने के बाद अब ऑनलाइन पढ़ाई शुरू हो गई है। कक्षा 9वीं से लेकर कक्षा 12वीं तक की आज से दूरदर्शन पर क्लासेस की शुरूआत हो रही है। दूरदर्शन पर कक्षाओं का प्रसारण सोमवार से शुक्रवार तक होगा। जिन विद्यार्थी के पास टीवी नहीं है। उन बच्चों के लिए पंचायत भवन में दूरदर्शन से पढ़ाई की व्यवस्था की गई है।

नौवीं से बारहवीं तक के बच्चों की क्लासेस का अलग-अलग समय

हफ्ते में 5 दिन तक दूरदर्शन पर कक्षाएं जारी रहेगी. आज से कक्षा 12वीं के छात्र छात्राओं की क्लास सुबह 8:00 से 9:00 तक, कक्षा ग्यारहवीं की क्लास सुबह 9:30 बजे से 10:30 बजे तक, 10वीं की क्लास सुबह 11:30 बजे से 12:30 बजे तक और 9वीं कक्षा दोपहर 12:30 से 1:30 बजे तक रहेंगी।

ब्लू रेड डिस्क में उपलब्ध कराए जा रहे एपिसोड

मध्यप्रदेश में कक्षा 9वीं कक्षा से 12वीं तक की पढ़ाई 15 जून से शुरू होनी थी। दूरदर्शन की शर्त के चलते प्रसारण को रोक दिया था। दूरदर्शन का कहना था कि एपिसोड ब्लू रेड डिस्क में मिलेंगे, तभी इनका प्रसारण किया जाएगा। पेन ड्राइव में मिले वीडियो से क्लासेस का प्रसारण नहीं किया जाएगा। लोक शिक्षण संचालनालय दूरदर्शन को ब्लू रेड डिस्क में प्रत्येक एपिसोड उपलब्ध करा रहा है। पेन ड्राइव की जगह ब्लू रेड डिस्क से एपिसोड उपलब्ध कराने में स्कूल शिक्षा विभाग को प्रतिमाह ढाई से तीन लाख का अतिरिक्त खर्च आ रहा है।

व्हाट्सएप ग्रुप पर होगा समस्याओं का समाधान

स्कूल शिक्षा विभाग ने सभी शिक्षकों को अलग-अलग कक्षा के हिसाब से स्टूडेंट के व्हाट्सएप ग्रुप बनाने के निर्देश दिए हैं। स्टूडेंट्स को शिक्षक हर कक्षा के हिसाब से व्हाट्सएप पर पाठ्य सामग्री भेजेंगे। दूरदर्शन से पढ़ाई के बाद शिक्षक छात्र छात्राओं के डाउट्स का समाधान भी करेंगे। कठिन टॉपिक को स्टूडेंट के लिए हल करने सरल से सरल उपाय भी बताने का प्रयास करेंगे।

सीएम ने कहा फिलहाल स्कूल रहेंगे बंद

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मध्यप्रदेश में फिलहाल स्कूल नहीं खोलने का निर्णय लिया है। कोरोना की संभावित तीसरी लहर से बच्चों की सुरक्षा के चलते फिलहाल स्कूल खोलने के फैसले को टाल दिया गया है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि स्कूल बंद रहने तक आॅनलाइन पढ़ाई जारी रहेगी। टीवी और दूरदर्शन के माध्यम से छात्र-छात्राओं की पढ़ाई कराई जाएगी। व्हाट्सएप पर स्टूडेंट्स को पाठ्य सामग्री की वर्कशीट भी उपलब्ध कराई जाएगी।