//

डंपर पलटने से रेत के नीचे दबे पिता-पुत्र ,JCB की मदद से निकाले शव

इंदौर। शहर के रेसिडेंसी इलाके में शुक्रवार सुबह 7 बजे एक दर्दनाक हादसे में डंपर पलटने से उसमें मौजूद रेत के नीचे दबने से पिता-पुत्र की मौत हो गई। पिता-पुत्र डंपर के नीचे एक घंटे तक दबे रहे। घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची। करीब एक घंटे की मशक्कत के बाद JCB की मदद से दोनों के शवों को बाहर निकाला गया। शवों को एमवाय अस्पताल भेज दिया गया। पुलिस मामला दर्ज कर जांच कर रही है।

पुलिस के अनुसार, संयोगीतागंज थाना क्षेत्र में निर्माण कार्य चल रहा था। सुबह रेत से भरे डंपर को खाली करवाने के लिए ठेकेदार गोपाल पवार अपने 12 साल के बेटे गोलू के साथ पहुंचा था। इस दौरान रेत से भरा डंपर निर्माण कार्य के समीप बने एक चेंबर में जा फंसा और पलट गया। डंपर के पलटने से पिता और पुत्र उसके नीचे दब गए। दोनों की मौके पर ही मौत हो गई।

बताया जा रहा है कि ठेकेदार घर से पत्नी को बोलकर निकला था कि दोपहर में बेटे के साथ खाना खाने आउंगा। इसके बाद पिता-पुत्र रेसीडेंसी इलाके में पहुंचे, जहां पेचवर्क और अन्य निर्माण कार्य चल रहा था। इस दौरान ठेकेदार ने बेटे से कहा कि तुम पास में ही खेलो, मैं कुछ काम देख लेता हूं। इतने में रेत से लदा डंपर वहां आया। पिता डंपर खाली कराने आया तो बेटा भी उसके पीछे आ गया। घटना के वक्त गोलू पिता के पीछे ही खेल रहा था। हादसे में उसकी भी मौत हो गई।