भगवान विश्वकर्मा के अपमान पर आक्रोशित हुआ ओझा समाज

गुना। बिहार के विस्पी से भाजपा विधायक हरिभूषण ठाकुर के द्वारा किए गए भगवान विश्वकर्मा के अपमान से मैथिल ओझा समाज आपत्ति जताते हुए राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपा। समाज की ओर से मांग की है कि आरोपी विधायक पर आईपीसी की धाराओं के तहत मुकद्दमा दर्ज किया जाए।

विधायक हरिभूषण ठाकुर ने 17 सितम्बर को विश्वकर्मा पूजा के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का मुखौटा लगाकर भगवान विश्वकर्मा की पूजा की थी। इससे समाज आहत है। भगवान विश्वकर्मा के अपमान का आरोप लगाते हुए मैथिल ओझा समाज ने बड़ा पुल स्थित समाज की धर्मशाला से एक रैली निकाली।

इस रैली में गुना के अलावा राघौगढ़, रुठियाई, एनएफएल, आरोन सहित आसपास के क्षेत्रों से भी समाजबंधु एकत्रित हुए। बाद में कलेक्ट्रेट पहुंचकर ज्ञापन दिया गया। राष्ट्रपति के नाम सौंपे गए ज्ञापन में समाज ने कहा है कि भगवान विश्वकर्मा की प्रधानमंत्री से तुलना करना ओछी मानसिकता को प्रदर्शित करता है।

श्रृष्टि के रचियता को किसी राजनेता के समान बताने से विश्वकर्मा समाज की भावनाओं को ठेस पहुंची है। इसलिए विधायक के खिलाफ मुकद्दमा दर्ज करते हुए उन्हें दंडित किया जाना चाहिए। वहीं राष्ट्र से उनकी सदस्यता खत्म करने की भी मांग की गई है।