////

नाबालिग से ड्रग देकर कर रहे थे दुष्कर्म, ऐसे हुआ मामला का खुलासा

आरोपी एमडीएमए ड्रग और शराब का डोज देकर दो महीने से शोषण कर रहे थे।

Start

इंदौर। इंदौर की विजयनगर थाना क्षेत्र ने एक सोलह साल की छात्रा से सामूहिक दुष्कर्म का मामला सामने आया है। मादक पदार्थों की खरीद-फरोख्त में लिप्त गिरोह छात्रा को एमडीएमए ड्रग और शराब का डोज देकर दो महीने से शोषण कर रहे था। गिरोह के तीन सदस्यों को विजय नगर पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपी छात्रा को इन्दौर की होटल स्काय इन मे ले जाकर दुष्कर्म किया करते थे। गिरोह में एक युवती भी शामिल है जो एमडीएमए, ब्राउन शुगर, कोकीन खरीदकर सप्लाई करती है। छात्रा ने अपने माता पिता के साथ विजय नगर थाने में जाकर रिपोर्ट दर्ज करवाई थी आरोपी गजनी उर्फ गोलू ठाकुर , अमन वर्मा , बिंदु दीदी व अन्य के खिलाफ पॉक्सो एक्ट में मामला दर्ज किया है।

विजय नगर थाना क्षेत्र का है मामला

दरसअल पूरा मामला विजय नगर थाना क्षेत्र का है, जहां स्कीम-78 निवासी 15 साल की किशोरी की शिकायत पर गजनी उर्फ गोलू ठाकुर, अमन वर्मा, बिंदु दीदी उर्फ मीनू और अन्य के खिलाफ अपहरण, सामूहिक दुष्कर्म, पॉक्सो एक्ट और नशे की लत लगाने की धाराओं में केस दर्ज किया है। माता-पिता के साथ थाने पहुंची छात्रा ने पुलिस को बताया कि 14 नवंबर को गजनी और अमन घुमाने के बहाने ले गए और कोल्ड ड्रिंक में शराब मिलाकर पिला दी। नशे की हालत में स्कीम-78 स्थित होटल स्काय इन ले गए और दुष्कर्म किया।

ब्लैकमेल कर किया शोषण

इसके बाद आरोपीयो द्वारा ब्लैकमेल कर शोषण करने लगे और घर ले जाकर, ड्रग देकर संबंध बनाए। आरोपी छात्रा की दो दिन बाद बिंदु दीदी नाम की महिला के घर लेकर गए। वहां दो लड़के पहले से ड्रग ले रहे थे। वही तीनो आरोपियों ने छात्रा को भी नशा करवाया। नशे की हालत में होटल लेकर गए और दोबारा दुष्कर्म किया। तीन दिन दुष्कर्म करने के बाद उसे घर छोड़ गए। छात्रा को ड्रग की लत लग चुकी थी। आरोपित उसे डोज देने के बहाने दुष्कर्म करने लगे थे। 31 दिसंबर को भी दोनों आरोपित बिंदु के घर लेकर गए। वहां तीन लड़के पाउडर पी रहे थे। आरोपितों ने छात्रा को नशा करवाया और बारी-बारी से दुष्कर्म किया।

बिंदु नाम की महिला है शामिल

वही पकड़े गए आरोपियों ने उज्जैन से ड्रग खरीदना कुबूला किया है वही छात्रा ने पुलिस को बताया कि आरोपितों ने उसे ड्रग सप्लाई करने के लिए कहा था। उसे बताया था कि वह उज्जैन से ड्रग खरीदकर बच्चों को बेचते हैं। बिंदु नाम की महिला भी उनके गिरोह में शामिल है। आरोपितों ने यह भी बताया कि स्कूली छात्र-छात्राएं बड़ी तादाद में उनसे ड्रग खरीदते हैं। पुलिस ने देर रात केस दर्ज कर गुरुवार सुबह तीन आरोपितों को पकड़ लिया। पुलिस अब सप्लायर और खरीदारों की तलाश में छापे मार रही है। सजा के लिए कोर्ट के समक्ष छात्रा के बयान भी करवाए जाएंगे।