संगीत एवं कला अकादमी का निदेशक बनने पर जयंत भिसे सम्मानित

इंदौर। संस्कृतिकर्मी जयंत भिसे को उस्ताद अलाउद्दीन ख़ाँ संगीत एवं कला अकादमी का निदेशक बनाएं जाने पर जाल सभागृह में सम्मान समारोह आयोजित किया। सम्मान समारोह में सांस्कृतिक एवं पर्यटन मंत्री उषा ठाकुर भी शामिल हुई।

सांस्कृतिक एवं कला अकादमी का निदेशक बनने पर डॉक्टर जयंत भिसे का इंदौर जाल सभागृह में रविवार को सम्मानित किया गया। इस सम्मान समारोह में पर्यटन एवं सांस्कृतिक मंत्री उषा ठाकुर एवं सांसद शंकर लालवानी शामिल हुए। लेकिन जयंत भिसे की कला एवं साहित्य अकादमी के निदेशक पद पर नियुक्ति को कांग्रेस ने अवैध बताया है। कांग्रेस का कहना है इस पद पर नियुक्ति की अधिकतम उम्र सीमा 65 वर्ष है और भिसे की उम्र 67 वर्ष है। पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री उषा ठाकुर ने कांग्रेसी के आरोपों को निराधार बताते हुए कहा जयंत भिसे कला एवं साहित्य अकादमी के निदेशक बनने पर प्रदेश में संस्कृति और कला विभाग में विकास होगा। और मुझे जयंत भिसे जी पर पूरा विश्वास है वह अपनी कार्यशैली से इस कला अकादमी को नई ऊंचाइयां देंगे।

कांग्रेस इस नियुक्ति को अवैध बता रही है

जयंत भिसे ने कहा कि इस जिम्मेदारी के लिए मैं प्रदेश सरकार को धन्यवाद देना चाहूंगा यह एक बहुत बड़ी जिम्मेदारी है। प्रदेश की कला और संस्कृति सारे देश में स्थापित हो इसके लिए विचार किया जाएगा। निश्चित रूप से कला अकादमी को पूरे देश में स्थापित करने के लिए प्रयास करेंगे। बहरहाल जयंत भिसे की सांस्कृतिक एवं कला अकादमी के निदेशक पद पर नियुक्ति को लेकर राजनीतिक घमासान शुरू हो गया है। कांग्रेस इस नियुक्ति को अवैध बता रही है।

इंदौर से मृदुभाषी के लिए चंकी बाजपेई की रिपोर्ट।