/

गृहमंत्री अनिल देशमुख सवालों के घेरे में, हवाई यात्रा के साथ भाजपा ने दिए ये सबूत

Start

मुंबई। 100 करोड़ की उगाही के आरोप को झेल रहे महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख की दिक्कतें खत्म होने का नाम नहीं ले रही हैं। एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने भले ही उनके लिए सुरक्षा कवच तैयार कर दिया हो, लेकिन दस्तावेज कुछ ओर ही मंजर बयां कर रहे हैं। वायरल दस्तावेज के मुताबिक , फरवरी में ही अनिल देशमुख ने एक चार्टर्ड विमान में सफर किया था, जबकि शरद पवार का कहना है कि वह कोरोना संक्रमित होने के बाद फरवरी में लंबे वक्त तक अस्पताल में थे।

प्राइवेट फ्लाइट से की थी यात्रा

कल एक प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित करते हुए शरद पवार ने कहा था कि देशमुख 5 से 15 फरवरी तक कोरोना की वजह से अस्पताल में भर्ती थे और उसके बाद अस्पताल से छुट्टी मिलने पर 27 फरवरी तक होम आइसोलेशन में रहे। इसके बाद से ही 15 फरवरी की एक प्राइवेट फ्लाइट की एयरलाइन टिकट सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। इसके अनुसार इस दिन देशमुख ने नागपुर से मुंबई तक चार्टर्ड विमान में सफर किया था।

भाजपा ने भी शरद पवार के दावे पर सवाल

प्रमुख विपक्षी दल भाजपा ने भी शरद पवार के दावे पर सवाल उठाते हुए अनिल देशमुख का एक वीडियो जारी किया है। इस वीडियो को अनिल देशमुख ने 15 फरवरी को अपने ट्विटर अकाउंट से भी ट्वीट किया था। वीडियो में देशमुख पत्रकारों से मुखातिब हो रहे हैं।भाजपा ने सवाल उठाए कि यदि देशमुख अस्पताल में थे तो वह प्रेस कॉन्फ्रेंस कैसे कर रहे थे?

अनिल देशमुख ने दी सफाई

विवाद बढ़ता देख अनिल देशमुख ने सफाई दी और कहा कि 15 फरवरी को जब वह अस्पताल से घर जा रहे थे तो गेट पर पत्रकार खड़े हुए थे और वो उनसे बात करना चाहते थे। कोरोना की वजह से उन्हें कमजोरी थी इसलिए उन्होंने वहीं कुर्सी पर बैठकर पत्रकारों से चर्चा की और उसके बाद सीधे गाड़ी में बैठकर घर रवाना हो गए।इसके बाद 28 फरवरी को वह बाहर निकले।