///

शिक्षकों की चंदा एकत्रित कर की मदद

शिक्षक

बडवाह. कहते हैं ना माता-पिता के बाद बच्चों को सिखाने व रास्ता दिखाने वाला शिक्षक ही होता है। और दूसरें लोगों कि मदद के लिए हमेशा शिक्षक तत्पर रहता है। ऐसा ही बड़वाह में देखने को मिला यहा  शिक्षकों ने अनुठी पहल कर दिवंगत अध्यापकों की मदद करने के लिये सहयोग राशि जमा करने का निर्णय लिया।

इस अनुठी पहल में सभी अधिकारियों, प्राचार्यो, जनशिक्षकों व अध्यापक शिक्षकों द्वारा आर्थिक सहयोग किया गया। इस दौरान करीब 4 लाख 61 हजार रुपये एकत्रित हुए। राशि एकत्रित हो जाने के बाद कार्यक्रम किया गया, जहां पर दिवंगत हुए अध्यापकों व दिव्यांग महिला अध्यापक को इलाज करवाने के लिये सहयोग राशि प्रदान की गई। इस कार्यक्रम का संचालन जनशिक्षक जगदीश शाह द्वारा किया गया।

सभी दिवंगत अध्यापकों के परिजनों को बीआरसी ऑफिस में सहयोग राशि जिला परियोजना समन्वयक के के डोंगरे, बीइओ प्रतिनिधि जतिन्द्र जोशी, दसरथ पवार, बीआरसी कैलाश खांडेकर के हाथों दिवंगत साथियों के परिजनों को राशि सौंपी गई।

खास बात यह है की शिक्षकों व शिक्षकों के परिजनों ने एक परिवार बनकर 19 लाख राशि एकत्रित कर दिव्यगंत अध्यापकों और उनके परिवारों को सहयोग राशि के रुप में प्रदान की है। इस अवसर पर  सहयोग राशि के सूत्रधार दीपक चौधरी, भास्कर निम्भोरकर, चरनजीत खन्ना, भुवनेश पाराशर, लालता प्रसाद तिवारी, शैलेन्द्र वर्मा आदि मौजूद रहे। कार्यक्रम का आभार संतोष सेन ने किया।

बड़वाह से मृदुभाषी के लिए विपिन जैन की रिपोर्ट