///

1 जून से हाेने लगेगा अनलॉक,इंदौर टोटल लॉक डाउन पर कलेक्टर ने ली अधिकारियों के साथ बैठक

इंदौर। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इंदौर 1 जून से कर्फ्यू छूट देने की घोषणा करने के बाद अब प्रशासन ने अपनी तैयारियां शुरू कर दी है । जिसके बाद आज कलेक्टर मनीष सिंह ने जिले के सभी अधिकारियों की बैठक ली और अपने अपने क्षेत्रों की स्थिति भी जानी ।

कलेक्टर मनीष सिंह द्वारा जिले के सभी अधिकारियों की बैठक ली गई जिसमे बताया गया कि अनलॉक की प्रक्रिया शुरू की जा रही है। उसके पहले प्रशासन द्वारा 31 तारीख तक कर्फ्यू का सख्ती से पालन करने के आदेश दिए गए हैं वही बैठक में इस बात की समीक्षा की गई कि जहां माइक्रो कंटेंटमेंट एरिया है । वहां की क्या स्थिति है उस स्थिति के सामने आने के बाद ही क्षेत्रों को को धीरे-धीरे ओपन किया जाएगा क्योंकि अब कोरोना का ग्राफ लगातार तेजी से नीचे गिर रहा है। अब 31 तारीख तक इंदौर शहर में सख्ती की जा रही है ताकि संक्रमण की चैन पूरी तरह से टूट सके । 30 मई के बाद भी यदि किसी एरिया में संक्रमण ज्यादा होता है, तो उस एरिया को सील कर दिया जाएगा। सरकार के आदेशानुसार 1 जून से हम शहर में एक्टिविटी को खाेलना शुरू कर देंगे। सरकार इसके लिए प्रोटोकाॅल बना रही है। हमसे इस मुद्दे पर डिटेल मांगी गई थी। शु्क्रवार की बैठक कंटेनमेंट एरिया बनाने और उसमें सख्ती करने को लेकर थी। 7-8 दिन के लिए जो हमने सबकुछ बंद किया है, यह संक्रमण के ऊपर फाइनल स्ट्रोक है। हम संक्रमण को 31 मई तक मिनिमाइज करना चाहते हैं।

31 मई के बाद जिन क्षेत्रों में संक्रमण मिलेगा वह कंटेनमेंट एरिया बनेगे

कलेक्टर मनीष सिंह ने बताया कि 31 मई के बाद जिन क्षेत्रों में संक्रमण मिलेगा, उन्हें कंटेनमेंट एरिया के रूप में बांधकर रखेंगे। शहर में अभी तक हम 560 माइक्रो कंटेनमेंट एरिया बना चुके हैं। गांव में 70 के करीब कंटेनमेंट एरिया हैं। इसका ज्यादा फायदा मिला है। दूसरी लहर के साथ ही अप्रैल में केंटेनमेंट एरिया बनाना शुरू कर दिया था। इससे संक्रमण दर में कमी आई है। इसे लेकर एक-एक एरिया की डिटेलिंग की गई है। 31 तक पूरी तरह से सख्त रहेगी।