///

जरुरतममंदों का सहारा बना दानपात्र, महामारी में बांट रहे राशन के पैकेट

किसी को भुखा नहीं सोने दे रही दानपात्र टीम

इंदौर. कहा जाता है कि इंदौर शहर को मां अहिल्या का वरदान मिला हुआ है, कि इस शहर में कोई भी भुखा नही सोएगा। इतना ही नही इस शहर के लोग कभी किसी को भुखा भी नही सोने देते है। यहां अधिकांश लोग बाहर के रहने वाले है, लेकिन उन्हें काम से लेकर खाने तक का सभी प्रबंध यहां हो ही जाता है। ऐसा ही काम दानपात्र टीम शहर में कर रही हैं, जो गरीब और जरुरतमंद लोगों को कोरोना काल में राशन के पैकेट वितरित कर रहे हैं। दानपात्र और इससे जुडी युवाओं की वालंटियर्स टीम महामारी के समय में भी अपनी परवाह न करते हुए औरों की तकलीफ को समझते हुए जरुरतमंद लोगों तक हर संभव मदद पहुंचा रही है। टीम के सदस्य रोजाना असहाय एवं जरूरतमंद परिवारों तक लगातार राशन ,कपड़े ,मास्क, सेनेटाईजर एवं अन्य सामान पहुंचाने का सेवाकार्य कर रहे है।

यह दानपात्र सबसे अलग हैं

टीम की प्रियंका रमाणी ने बताया कि दानपात्र एक ऑनलाइन निःशुल्क प्लेटफॉर्म है इस प्लेटफॉर्म से विगत तीन वर्षो से सेवा कार्य कर लाखों जरूरतमंद परिवारों तक मदद पहुंचाई जा चुकी है, इसकी मदद से घर में उपयोग में न आ रहे पुराने सामान को घर से कलेक्ट किया जाता है फिर उसे उपयोग लायक बनाकर जरूरतमंद परिवारों तक पहुंचाया जाता है। विगत तीन वर्षो से हजारों इंदौरवासी इस प्लेटफॉर्म के माध्यम से अपने उपयोग में न आ रहे सामान को डोनेट कर चुके है। दानपात्र की टीम घरों से कपड़े ,खिलौने ,किताबें ,जूते ,पुराना फर्नीचर ,इलेक्ट्रॉनिक आइटम्स व् अन्य कोई भी सामान जो लोगों के उपयोग में नहीं आ रहा हो उसे लेकर जरूरतमंद परिवारों तक पहुंचाते हैं।

अब तक 5 लाख लोगों की मदद कर चुका दानपात्र

दानपात्र की इस पहल से पिछले तीन वर्षो में 70 हजार से ज्यादा इंदौरवासी जुड़ चुके है एवं 5 लाख से अधिक जरूरतमंद परिवारों तक टीम द्वारा मदद पहुंचाई जा चुकी है। दानपात्र से बड़ी संख्या में निःस्वार्थ भाव से शहर के युवा जुड़े हुए है, जिसमे डॉक्टर , इंजीनियर से लेकर बड़े बिज़नेसमेन तक शामिल है। 

भाई की शादी में खाना बचा तो बहन को आया था दानपात्र शुरु करने का आइडिया

इसे बनाने का विचार कंपनी की सीईओ आकांक्षा गुप्ता के दिमाग में 2018 में तब आया जब उनके भाई की शादी में 1000 से ज्यादा लोगों का खाना बच गया। खाना बर्बाद न होकर किसी जरूरतमंद तक पहुंचे इसी नेक सोच के साथ दानपात्र शुरु किया था।

जरुरतमंदों तक पहुंचाए यह नंबर

अगर आपकी नजर में भी ऐसे जरूरतमंद परिवार या बच्चे हैं, जिन्हें इस समय राशन या अन्य किसी मदद की आवश्यकता है तो उनकी जानकारी दानपात्र के हेल्पलाइन नंबर 6263362660 , 7828383066  पर जाकर दे सकते है। जिससे जरुरतमंद लोगों की मदद हो पाएगी।