//////

7 लाख रुपए खर्च कर थाईलैंड से लखनऊ बुलवाई गई कॉल गर्ल, कोरोना से हुई मौत

कॉल गर्ल राजस्थान के रहने वाले एक ट्रैवेल एजेंट के संपर्क में थी

Coronavirus: कोरोना वायरस की वजह से लगे लॉकडाउन में लोगों का घरों से निकलना मुश्किल हो गया है और आम लोगों को रोजमर्रा की जिंदगी में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है, लेकिन इसके बावजूद लोग अपने अय्याशी के शौक को पूरा करने से बाज नहीं आ रहे हैं। ऐसा ही एक मामला उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ से सामने आया है, जहां थाईलैंड से आई एक कॉल गर्ल की कोरोना से मौत हो गई।

10 दिन पहले आई थी लखनऊ

लखनऊ पुलिस लॉकडाउन की व्यवस्था को बनाए रखने में व्यस्त थी, तभी उसके सामने एक ऐसा मामला आया, जिससे वो हैरान रह गई। दरअसल थाइलैंड की रहने वाली एक युवती की कोरोना से मौत हो गई। पुलिस ने जब इसकी तफ्तीश की तो मामले में नया एंगल निकलकर सामने आया। पुलिस को जानकारी मिलाी मृत युवती थाइलैंड की रहने वाली एक कॉल गर्ल थी और एक रइसजादे ने उसको 10 दिनों पहले 7 लाख रुपए खर्च कर लखनऊ बुलवाया था।

लखनऊ में हुआ अंतिम संस्कार

युवती लखनऊ पहुंचने के 2 दिन बाद ही बीमार पड़ गई तो उसे लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां 3 मई को उसकी मौत हो गई। पुलिस ने थाईलैंड दूतावास के जरिए उसकी बॉडी को परिजनों को सुपूर्द करने की कोशिश की, लेकिन ये कोशिश नाकाम रही तो शनिवार को एजेंट सलमान की मौजूदगी में उसका अंतिम संस्कार कर दिया गया। इसी एजेंट के जरिए वह भारत आई थी। इसके साथ ही पुलिस राजधानी में पैर पसार रहे इंटरनेशनल सेक्स रैकेट का पर्दाफाश करने में जुट गई है।

राजस्थान से भी जुड़े हैं तार

पुलिस के मुताबिक ये कॉल गर्ल राजस्थान के रहने वाले एक ट्रैवेल एजेंट के संपर्क में थी। उसी ने इसको लखनऊ भेजा था। पुलिस अब इस एजेंट की भी तलाश कर रही है। डांच में पता चला है कि जिस रइसजादे ने इसको बुलवाया था उसी ने तबियत बिगड़ने पर खुद थाईलैंड एंबेसी को फोन करके इसकी जानकारी दी थी। इसके बाद एंबेसी ने भारत के विदेश मंत्रालय की मदद से उसे अस्पताल में भर्ती कराया था।