/

अकाली दल के नेता प्रकाश सिंह बादल ने कृषि कानूनों के विरोध में लौटाया पद्म विभूषण

कृषि कानूनों के विरोध में अकाली दल ने NDA से नाता तोड़ लिया था।

नई दिल्ली। कृषि कानूनों के विरोध का गुरुवार को आठवां दिन है। समस्या के समाधान के लिए सरकार की किसानों से चर्चा जारी है वहीं इस बीच पंजाब के पूर्व सीएम और अकाली दल के कद्दावर नेता प्रकाश सिंह बादल ने किसानों के समर्थन में पद्म विभूषण लौटा दिया है।

बादल को 2015 में ये अवॉर्ड प्रदान किया गया था। बादल की पार्टी शिरोमणि अकाली दल ने NDA से 22 साल पुराना नाता कृषि कानूनों के विरोध में सितंबर में तोड़ लिया था। इससे पहले 17 सितंबर को हरसिमरत कौर बादल ने भी मोदी कैबिनेट से विरोध जताते हुए इस्तीफा दे दिया था। इसके साथ ही शिरोमणि अकाली दल (डेमोक्रेटिक) के प्रमुख और राज्यसभा सांसद सुखदेव सिंह ढींढसा ने भी पद्म भूषण अवॉर्ड लौटाने का फैसला किया है।

वहीं 40 किसान नेताओं की सरकार के साथ विज्ञान भवन में चर्चा जारी है। सरकार की तरफ से कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर किसानों से चर्चा कर रहे हैं। कृषि मंत्री तोमर को उम्मीद है कि चर्चा का सकारात्मक नतीजा निकलेगा। उधर पंजाब के सीएम अमरिंदर ने गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की और किसानों की समस्या का जल्द समाधान निकालने की अपील की। उन्होंनेो कहा कि इस आंदोलन से पंजाब की अर्थव्यवस्था को नुकसान पहुंच रहा है। सीएम अमरिंदर ने एग्रीकल्चर प्रोड्यूस मार्केट कमेटी (APMC) आधारित मंडी सिस्टम को जारी रखते हुए MSP को बचाने की वकालात की। उन्होंने गृह मंत्री से अपील की कि खुले दिल से किसानों की बात सुनकर इस विवाद का निपटारा करें, ताकि किसान अपने घरों को वापसी कर सकें।