////

सामूहिक दुष्कर्म कर लड़की को रेलवे ट्रैक पर फेंका, पीड़िता की ऐसे बची जान

युवती का एमवाय अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती करवाया गया है।

इंदौर। इंदौर के परदेशीपुरा थाना क्षेत्र के नंदीग्राम इलाके में एक लड़की के साथ सामूहिक दुष्कर्म करने के बाद उसको जान से मारने की कोशिश की गई है। पीड़िता ने 5 लड़कों पर दुष्कर्म का आरोप लगाया है। लड़की का कहना है कि उसके साथ दुष्कर्म करने के बाद आरोपियों ने रेलवे ट्रेक पर फेंक दिया था। पुलिस आरोपियों की तलाश कर रही है।

5 बदमाशों ने दिया वारदात को अंजाम

इंदौर में बीती रात एक सनसनीखेज वारदात सामने आई है। जिसमे पांच बदमाशों ने मिलकर पहले एक छात्रा का कोचिंग जाते समय अपहरण किया फिर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया और उस पर चाकू से हमला कर उसे घायल कर दिया। बदमाशों ने उसके बाद युवती को एक बोरे में बंद कर उसके ऊपर घासलेट डालकर रेलवे पटरी पर फेंक दिया । गनीमत रही कि इस दौरान युवती की आवाज सुनकर लोग आ गए और उसे बोरे से निकालकर उपचार के लिए एमवाय अस्पताल भिजवाया। फिलहाल युवती का एमवाय अस्पताल में उपचार जारी है। मामले में जानकारी सामने आते ही शहर के वरिष्ठ अधिकारी रात से ही घटना की जांच पड़ताल में जुटे हुए हैं।

दुष्कर्म के बाद रेलवे ट्रेक पर फेंका

सामूहिक दुष्कर्म की घटना बाणगंगा थाना के भागरीथपुरा इलाके में स्थित रेलवे ट्रैक के पास की है । युवती ने पुलिस को बताया कि वह पाटनीपुरा क्षेत्र में कोचिंग पढ़ने जाती है। मंगलवार शाम यहां से लौटते समय उसे अक्षय नामक दोस्त मिला। उसके साथ एक युवक और था। युवती का आरोप है कि दोनों ने बातों-बातों में उसे कुछ सुंघाया और बाइक पर बैठाकर भागीरथपुरा रेलवे ट्रैक के पास ले गए। रेलवे ट्रैक पर पहले से तीन लोग मौजूद थे, जो उनका इंतजार कर रहे थे। सभी ने मिलकर पीड़िता पर हमला कर दिया और दुष्कर्म किया । युवती का आरोप है कि दुष्कर्म करने के बाद उन्होंने चाकू से हमला किया और बोरे में बंद कर उसे आग के हवाले करने की भी कोशिश की । इसके बाद सभी मौके से भाग गए।

एक आरोपी पुलिस गिरफ्त में

आरोपियों के मौके से भागने युवती चिल्लाई ओर लोगों की मदद से जैसे-तैसे बोरे से बाहर आई और अपने परिजनों को वारदात की जानकारी दी जिसके बाद उसे एमवाय अस्पताल लाया गया । फिलहाल पुलिस मामले की जांच पड़ताल में जुटी है। पुलिस ने देर रात एक आरोपी को पकड़ लिया है।