ख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने इस बात की जानकारी ट्वीट कर दी।
/

10 साल का बच्चा सिग्नल पर बेच रहा था जुराब, सीएम अमरिंदर सिंह ने की ऐसे मदद,देखें वीडियो

लुधियाना। सोशल मीडिया पर कभी-कभी कुछ ऐसे वीडियो वायरल होते हैं जो इंसानी दिल को छू जाते हैं। हमारे जज्बात जाग जाते हैं और उनको देखना या उसमें बताई गई कहानी दिल को सुकून देने वाली होती है। एक ऐसा ही वीडियो सोशल मीडिया पर इन दिनों काफी वायरल हो रहा है, जिसमें सड़क पर जुराब बेचने वाले बच्चे की पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने आर्थिक मदद की है।

जुराब बेचने का वीडियो हुआ था वायरल

सोशल मीडिया पर एक वीडियो इन दिनों काफी खूब वायरल हो रहा है जिसमें दस साल का एक बच्चा सड़क पर जुराब बेचता हुआ नजर आ रहा है। तभी पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह की नजर इस दिल को छू जाने वाले वीड़ियो पर पड़ती है। वह उससे बात करते हैं और उसके परिवार तो 2 लाख रुपये की मदद देते हैं। .कैप्टन अमरिंदर ने अपने ट्विटर हैंडल से यह वीडियो पोस्ट की और कहा स्कूल छोड़ कर सिग्नल पर जुराब बेचने वाले 10 साल के बच्चे से आज मैने बात की है।

सीएम ने दी दो लाख की सहायता

लुधियाना के ट्रैफिक क्रॉसिंग पर 10 साल के नन्हे वंश को जब जुराब बेचते हुए सीएम कैप्टन अमरिंदर ने वायरल वीडियो में देखा तो बच्चे ने उनका ध्यान आकर्षित किया जिसके बाद उन्होंने इलाके अधिकारियों से कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि यह बच्चा अपनी पढ़ाई फिर से शुरू करें और स्कूल जाए। दूसरी क्लास में पढ़ने वाले वंश ने पढ़ाई छोड़कर अपने परिवार को चलाने के लिए सड़कों पर मोजे बेचने का फैसला किया था। ट्वीट में, कैप्टन अमरिंदर सिंह ने लिखा: “10 साल के बच्चे वंश सिंह से फोन पर बात हुई, दूसरी कक्षा के इस एक छात्र का वीडियो मैंने देखा था जिसमें वह लुधियाना में ट्रैफिक क्रॉसिंग पर मोज़े बेचते हुए दिखाई दिया था। डीसी से कहा कि वह अपने स्कूल में उसका दाखिला सुनिश्चित करने के लिए कहें। उनके परिवार को 2 लाख की तत्काल वित्तीय सहायता भी दी गई है।”

एक शख्स ने बनाया था बच्चे का वीडियो

वीडियो में ट्रैफिक क्रॉसिंग पर मोजे बेचने वाले वंश को दिखाया गया है। कार में बैठा एक व्यक्ति उसे मोजे की कीमत से ज्यादा पैसे देने के लिए कहता है लेकिन वह इनकार कर देता, कार में बैठ आदमी उनकी बातचीत को रिकॉर्ड कर लेता है जिसमें बच्चा बताता है कि पहले वह स्कूल जाता था लेकिन अब परिवार की मदद करने के लिए मोजे बेच रहा है। कॉल कर मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने बच्चे को आश्वासन दिया कि उसका और उसके परिवार का ख्याल रखा जाएगा।