//

पूरे विश्व का भगवाकरण होगा तभी मानवता सुख-शांति से रह पाएगी : मंत्री उषा ठाकुर

भोपाल। चिकित्सा शिक्षा के कोर्स में RSS के संस्थापक डॉ. हेडगवार और पंडित दीनदयाल उपाध्याय के विचार पढ़ाए जाने पर प्रदेश की पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री उषा ठाकुर ने भी सहमति प्रदान की है। उन्होंने कहा कि प्रेरक व्यक्ति को पढ़ाना अच्छाई है। इससे लोगों में ज्यादा सेवा भाव जागेगा। आगे मंत्री उषा ठाकुर ने कहा कि भगवाकरण भारतीय संस्कृति की आत्मा है। भगवाकरण त्याग का प्रतीक है उन्होंने कहा कि भगवाकरण करना यानी त्याग बलिदान तपस्या जैसे मूल्यों की स्थापना करना है। पूरे विश्व का भगवाकरण होना चाहिए तो ही मानवता सुख शांति से रह पाएगी। वही सिलेबस में अकबर और बाबर के इतिहास को पढ़ाई जाने को लेकर मंत्री ठाकुर ने कहा कि कहीं इतिहास आने वाली पीढ़ी के सामने आना चाहिए यह तो सुनियोजित तरीके से आजादी के 65 सालों में वह गौरवशाली इतिहास आने वाली पीढ़ी के समक्ष शिक्षा नीति में शामिल ही नहीं हो पाया।

जावेद अख्तर को लेकर मंत्री ठाकुर ने कहा कि यह दुर्भाग्य है भारत की संवेदनशील मिट्टी में पढ़ने बढ़ने के बाद मानवता विरोधी बात करें तो यह दुखद स्थिति होती है।