//

भोपाल मे RBI दफ्तर के बाद भारत भवन में घुसे आतंकवादी

भोपाल। भोपाल के मैदामिल स्थित रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के क्षेत्रीय कार्यालय में गुरुवार रात अचानक हथियार बंद आतंकी घुस गए। इस दौरान उन्होंने कर्मचारियों को अपने कब्जे में ले लिया और ग्रेनेट से विस्फोट करना शुरू कर दिया। इसकी सूचना राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड एनएसजी कमांडो को मिली तो उन्होंने तत्काल मोर्चा संभाला और प्लानिंग कर दो घंटे की मशक्कत के बाद आतंकियों को अपनी गिरफ्त में ले लिया।

हमीदिया अस्पताल को भी आतंकियों ने अपनी चपेट में लिया

गुरुवार की घटना के बाद शुक्रवार को अलसुबह भोपाल के भारत भवन और हमीदिया अस्पताल को भी आतंकियों ने अपनी चपेट में लिया। जिन्हें जाबाज़ कमांडो ने मार गिराया। चौकिये नही यह महज एक अभ्यास का हिस्सा था, जिससे मॉक ड्रिल कहाँ जाता है। दरअसल, यह सब एनएसजी यानि राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड की मॉक ड्रिल का एक हिस्सा था। मॉक ड्रिल सुबह साढ़े सात बजे शुरू हुई, जो करीब एक घंटे तक चली। इस दौरान प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्‍तम मिश्रा के अलावा दिल्ली, कोलकाता और मुंबई के कमांडोज और सीनियर अधिकारी भी मौजूद रहे।

सुरक्षा एजेंसियों का रिस्पॉन्स टाइम भी जांचा गया

मॉकड्रिल के दौरान सुरक्षा एजेंसियों का रिस्पॉन्स टाइम भी जांचा गया। वहीं, देरी से आई टीमों को सुधार के निर्देश दिए गए। बता दें कि देश के सबसे खतरनाक कमांडो ब्लैक कैट कमांडो या एनएसजी कमांडो होते हैं, जो आतंकी गतिविधियों से निपटने के लिए खास तौर पर तैयार किए जाते हैं।

भोपाल से मृदुभाषी के लिए मोहम्मद ताहिर खान की रिपोर्ट