//

Tapowan Live: जिंदगी को बचाने की जंग, 9 राज्यों के 197 लोग हैं अभी लापता

Start

Tapowan Live: उत्तराखंड में चमोली के रैणी और तपोवन में हुई तबाही में बचाव दल को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। टनल में काफी मलबा होने की वजह से उसमें फंसे लोगों को निकालने में काफी मुश्किल आ रही है। टनल में अभी भी 35 लोग हैं, जिनके बारे में कोई सूचना नहीं है। अब तक 20 शव बरामद कर लिए गए हैं और 197 लापता लोगों की तलाश की जा रही है।

लापता लोग बिजली परियोजना से जुड़े हैं

राज्य आपदा प्रबंधन विभाग के अनुसार नौ राज्यों के 197 लोग अभी लापता हैं। ये लोग उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, यूपी, बिहार, मप्र, पश्चिमी बंगाल, पंजाब, आसाम और उड़ीसा के रहने वाले हैं। यह सभी लापता लोग ऋषि गंगा और तपोवन बिजली परियोजना से जुड़े हुए मजदूर और कर्मचारी हैं। सोमतक 20 शव मिले उनमें से दो की शिनाख्त हो चुकी है। इनमें से एक देहरादून के डोईवाला और दूसरा तपोवन का है।

टनल-2 में 35 लोग अभी तक फंसे हुए हैं

जिला प्रशासन, एसडीआरएफ, पुलिस, आईटीबीपी, सेना, और एनडीआरएफ की टीमें राहत और बचाव कार्यों में लगी हैं। तपोवन जल विद्युत परियोजना की जिस टनल-2 में 35 लोग अभी तक फंसे हुए हैं, वह 250 मीटर लंबी और नौ मीटर ऊंची है। टनल के सौ मीटर हिस्से में मलबा भरा हुआ है। टनल काआगे का हिस्सा कुछ ऊंचा बताया जा रहा है। इसलिए इसमें फंसे लोगों के सुरक्षित होने की उम्मीद भी जताई जा रही है। बचाव दल टनल के मुहाने से जितना मलबा हटा रहा है, उतना ही टनल के अंदर से मुहाने की ओर आ रहा है। प्रशासन का कहना है कि, बचाव दल टनल के अंदर 100 मीटर तक पहुंच चुके हैं।