//

उदयपुर की घटना के बाद इंदौर पुलिस सतर्क, जुमे पर ओवैसी की होने वाली सभा को प्रशासन ने नहीं दी अनुमति

इंदौर। ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के अध्यक्ष असदउद्दीन ओवैसी की इंदौर में प्रस्तावित सभा निरस्त मानी जा रही है, क्योंकि पुलिस प्रशासन ने इसके लिए अनुमति जारी नहीं की है। इसे लेकर अब कहा जा रहा है कि ओवैसी इंदौर नहीं आएंगे। सूत्रों के अनुसार उदयपुर में हुई घटना के बाद इंदौर प्रशासन ने सुरक्षा व्यवस्था के मद्देनजर शुक्रवार को ओवैसी की सभा के लिए अनुमति नहीं दी गई है।

गौरतलब है कि बंबई बाजार क्षेत्र में 30 जून को ओवैसी की सभा प्रस्तावित थी। ओवैसी आल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं। उनकी पार्टी की तरफ से कुछ प्रत्याशी इस बार नगरीय निकाय चुनाव में पार्षद पद के लिए खड़े हुए हैं। मामले में पुलिस अफसरों का कहना है कि पूर्व में 30 जून को सभा के लिए अनुमति मांगी गई थी। बाद में इसे 1 जुलाई किया गया। अनुमति के संबंध में अंतिम निर्णय प्रशासन को करना था। उनके पास आवेदन भेज दिया गया था। तारीख में बदलाव के कारण इस पर निर्णय नहीं हुआ। हमारी तरफ से कोई अनुमति सभा के संबंध में नहीं दी गई है। कहा जा रहा है कि राजस्थान की घटना और इसे लेकर होने वाले विरोध प्रदर्शन के मद्देनजर सभा की अनुमति का मामला खटाई में पड़ गया। ओवैसी की पार्टी के पदाधिकारियों ने अफसरों से संपर्क कर अनुमति के बारे में चर्चा भी की थी, लेकिन उन्हें उदयपुर की घटना का हवाला दिया। शहर में घटना को लेकर दोपहर तक बाजार बंद रखे गए। राजनीतिक दलों के कुछ उम्मीदवारों ने भी दोपहर तक जनसंपर्क नहीं करने का फैसला लिया।

संवेदनशील मालवा-निमाड़ में सबसे अधिक प्रत्याशी

एआईएमआईएम ने सबसे अधिक प्रत्याशी संवेदनशील माने जाने वाले मालवा-निमाड़ में उतारे हैं। यहां के जिलों में पिछले डेढ़ साल में 14 से अधिक दंगे और कई बार तनाव की स्थिति उत्पन्न हो चुकी है। खरगोन का दंगा सबसे ताजा है। यही कारण है कि पार्टी ने वहां एक गैर मुस्लिम समेत 7 प्रत्याशी उतारे हैं। वहीं, अक्सर तनावग्रस्त रहने वाले खंडवा में पार्टी ने मेयर और 11 पार्षद पद पर प्रत्याशी उतारे हैं। उधर बुरहानपुर में मेयर के अलावा मुस्लिम बहुल इलाकों में सबसे अधिक 15 पार्षद प्रत्याशी उतारे हैं।

अन्य शहरों में भी सभा कर चुके हैं ओवैसी

मध्यप्रदेश में जारी नगर निगम चुनाव के बीच कई शहरों में एआईएमआईएम के प्रत्याशी भी चुनाव मैदान में नजर आ रहे हैं, जहां अपने प्रत्याशियों के लिए एआईएमआईएम के नेता असदुद्दीन ओवैसी चुनाव प्रचार के मैदान में उतरे हैं। इसी के मद्देनजर ओवैसी मध्य प्रदेश के अलग-अलग शहरों में सभा लेते नजर आ रहे हैं, जहां इंदौर से पहले ओवैसी ने जबलपुर और भोपाल जैसे शहरों में सभा लेकर जनता से एआईएमआईएम को वोट देने की अपील की है।