///

पूर्व सीएम कमलनाथ ने कहा, नया कृषि कानून देश को बर्बाद कर देगा

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कृषि कानून पर रखी अपनी बात।

इंदौर। अपने निजी कार्यक्रम के दौरान इंदौर आए पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कृषि कानून पर कहा, देश की अर्थव्यवस्था कृषि क्षेत्र पर आधारित है कृषि क्षेत्र में जब तक आर्थिक मज़बूती ना होगी, देश की अर्थव्यवस्था नहीं सुधरेगी। किसानों के साथ न्याय हो उन्हें सही मूल्य मिले ये आज हमारी प्रथमिकता रहनी चाहिए। ये किसानों के शोषण का कानून है, मैं नहीं जानता क्या होगा राष्ट्रपति का एडवाइज़री रोल है। हवा में ये सरकार चल रही जो देश को बर्बाद कर देगी।

नया कृषि कानून किसानों का करेगा शोषण

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने नए कृषि कानून को किसानों के शोषण का कानून बताया और यह कानून देश को बर्बाद कर देगा। पूर्व मुंख्यमंत्री कमलनाथ का बुधवार देर रात इंदौर एक निजी कार्यक्रम में करने के लिए आए। कमलनाथ ने सीधे केंद्र सरकार पर निशाना साधते है कहा है कि सरकार् द्वारा लगया गया यह कानून किसान के शोषण का कानून है, हमारे देश की अर्थ व्यवस्था कृषि क्षेत्र पर आधारित है।

राष्ट्रपति की भूमिका सिर्फ सलाहकार की

दिल्ली में राहुल गाँधी इस कृषि कानून के लिए राष्ट्रपति से मिले थे जिस पर नाथ का कहना है कि राष्ट्रपति का एक एडवाइजरी रोल है मैं नही समझता इससे कुछ होगा, लेकिन किसानों के लिए लाया यह कानून देश को बर्बाद कर देगा ,इस तरह का कानून लेन से देश की आर्थिक स्थिति नही सुधरेंगी ,किसानो के साथ न्याय हो और उन्हें फसल का सही मूल्य मिले ये ही कॉंग्रेस की प्राथमिकता है