दिग्विजय सिंह जी आप वायरस हैं तो जल्द आपका ट्रीटमेंट हो जाएगा- वीडी शर्मा - Mradubhashi - MP News, MP News in Hindi, Top News, Latest News, Hindi News, हिंदी समाचार, Breaking News, Latest News in Hindi
//

दिग्विजय सिंह जी आप वायरस हैं तो जल्द आपका ट्रीटमेंट हो जाएगा- वीडी शर्मा

दिग्विजय सिंह जी आप वायरस हैं तो जल्द आपका ट्रीटमेंट हो जाएगा- वीडी शर्मा

उज्जैन। मध्यप्रदेश की सियासत में जुबानी जंग बढ़ती ही जा रही है। इसी के तहत भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने उज्जैन में सर्किट हाउस पर पत्रकारवार्ता को संबोधित करते हुए बताया कि प्रधानमंत्री ने स्वदेशी तकनीक पर आधारित इसी देश के वैज्ञानिकों द्वारा निर्मित ऐसी वैक्सीन बनाई है। दिग्विजय सिंह जी आप वायरस हैं तो चिंता मत करिए वैक्सीन तैयार है, जल्द ही आपका ट्रीटमेंट हो जाएगा।

वीडी शर्मा ने अन्य दल के नेताओं को भी सांप, बिच्छू की संज्ञा दे दी। उन्होंने कहा कि हमारे मुख्यमंत्री कथा सुनाते हैं कि बाढ़ आ रही थी तो बाढ़ में देखा कि एक जगह पर बिच्छू, सांप इकट्ठे हो रहे हैं। कहीं बाढ़ में न डूब जाएं डर के मारे एक दूसरों को नहीं खा रहे थे और डर के मारे एक जगह जाकर बैठ गए। उन्होंने कहा कि मैं ऐसे शब्दों का उपयोग नहीं करता हूं वे भी नेता है ।

मैं तो कहानी सुना रहा हूं कि मोदीजी के डर के कारण एक जगह इकट्ठा हो रहे हैं, जबकि एक नेचर के नहीं हैं। कभी इकट्ठे नहीं रह सकते हैं, जैसे ही बाढ़ जाएगी सभी कूद-कूदकर एक दूसरे पर टूट पड़ेंगे। शर्मा ने कहा इन्हें एकत्रित होने दीजिए।

गरीब कल्याण योजना के कारण जीवन स्तर ऊंचा उठ
शर्मा ने कहा मुझे लगता है मोदी के नेतृत्व में देश जिस तरह से आगे बढ़ रहा है मोदी केवल नेता नहीं हंै, सामाजिक भूमिका में भी सामने आए हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी केवल वोट बैंक की पॉलिटिक्स नहीं करते हैं अगर वोट बैंक की पॉलिटिक्स कर रहे होते तो अल्पसंख्यक समुदाय के भाई-बहनों के जीवन में भी बदलाव और जीवन स्तर ऊंचा उठा है तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की गरीब कल्याण योजना के कारण ही उठा है।

‘मन की बात’ से 96 प्रतिशत लोग परिचित
प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने मन की बात कार्यक्रम को लेकर आईआईएम रोहतक द्वारा किए गए सर्वे के बारे में बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मन की बात कार्यक्रम से समाज में एक सकारात्मक बदलाव आया है। आईआईएम रोहतक में इस कार्यक्रम को लेकर एक सर्वे किया। सर्वे के अनुसार मन की बात से लगभग 96 प्रतिशत लोग परिचित हैं। इस कार्यक्रम को 100 करोड़ से ज्यादा लोग एक बार सुने चुके हैं।

23 करोड़ लोगों ने कार्यक्रम को नियमित रूप से देख और सुना है। मन की बात नागरिकों के व्यवहार, विचार एवं मनोस्थिति को सकारात्मक रूप से प्रभावित करती है। 60 प्रतिशत ने लोगों ने राष्ट्र निर्माण के लिए कार्य करने में रुचि दिखाई है। 55 प्रतिशत लोग राष्ट्र के एक जिम्मेदार नागरिक बनने की पुष्टि करते हैं। 63 प्रतिशत लोग महसूस करते हैं कि सरकार के प्रति उनका दृष्टिकोण सकारात्मक हो गया है।