///

भोपाल में कोरोना कर्फ़्यू हुआ सख़्त, कलेक्टर-डीआईजी उतरे सड़कों पर

Start

भोपाल। भोपाल में कोरोना कर्फ़्यू का सख़्ती से पालन करवाया जा रहा है। गुरुवार सुबह भोपाल कलेक्टर और डीआईजी सड़क पर उतर आये और उन्होंने सुरक्षा अमले को दो टूक निर्देश दिये अकारण घूमते पाये जाने वालों को अरेस्ट कर लॉकअप में बंद किया जाए।

कोरोना कर्फ्यू के पालन की अपील

भोपाल में कोरोना की दूसरी लहर अभी काबू में नहीं आ पायी है। गुरुवार को भी शहर में छह सौ के लगभग नये संक्रमित मिले। हालातों के मद्देनज़र कलेक्टर अविनाश लवानिया और डीआईजी इरशाद वली ने शहर का भ्रमण किया। डीएम ने साफ कहा, कोरोना की स्थिति अभी गंभीर है फिलहाल कोई रिस्क नहीं ले सकते हैं। डीआईजी ने भी शहरवासियों से अपील की धर्म-कर्म और सामाजिक सरोकारों के पालन करने के अवसर पर अनावश्यक भीड़ लगाने से बचें।

शहर है डेजर जोन में

प्रदेश में भोपाल और इंदौर शहर अभी भी कोरोना संक्रमण के डेंजर जोन में बने हुए है। बड़ी संख्या में नये संक्रमित रोगी मिल रहे हैं। 1 जून सुबह छह बजे तक कोरोना कर्फ़्यू लगाया गया है। बुधवार को सीएम शिवराज सिंह चौहान ने राज्य की जनता के नाम संदेश में संकेत दे दिये थे कि दोनों शहरों को एक जून के बाद भी कोरोना कर्फ़्यू से राहत नहीं दी जायेगी। सीएम के संकेतों के बाद भोपाल प्रशासन ने आज से सख़्ती और बढ़ा दी है।