////

‘जयश्रीराम’ का नारा लगने पर बजरंग दल के कार्यकर्ता को दिल्ली में उतारा मौत के घाट

Start

नई दिल्ली। मंगोलपुरी इलाके में कुछ युवकों ने घर में घुसकर बजरंग दल के कार्यकर्ता को चाकू घोंपकर मौत के घाट उतार दिया। मृतक का नाम रिंकू शर्मा था और उसकी उम्र 26 साल थी। पुलिस ने इस मामलें में चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपियों की पहचान जाहिद, मेहताब, दानिश और इस्लाम के तौर पर हुई है। हत्या से इलाके में तनाव पैदा हो गया है।

बजरंग दल का कार्यकर्ता था रिंकू शर्मा

मंगोलपुरी का रहने वाला रिंकू शर्मा पश्चिम विहार स्थित एक अस्पताल में बतौर लैब टेक्नीशियन काम करता था। उसके परिवार में मां राधा देवी, पिता अजय शर्मा के अलावा भाई अंकित और मनु शर्मा हैं। पूरा शर्मा परिवार बजरंग दल से जुड़ा हुआ है और रिंकू संगठन की गतिविधियों में बढ़चढ़ कर हिस्सा लेता था।

घर में घुसकर किया हमला

मृतक रिंकू के भाई अंकित के मुताबिक, बुधवार देर रात हमलावरों ने उनके घर का दरवाजा खटखटाया और दरवाजा खोलते ही हमलावर जबरन घर में घुस आए और भाई रिंकू पर चाकू से हमला कर दिया। हमला करने के बाद आरोपी मौके से फरार हो गए। हमले में गंभीर रुप से घायल रिंकू को मंगोलपुरी के संजय गांधी अस्पताल में ले जाया गया, जहां गुरुवार की दोपहर 12 बजे उनकी मौत हो गई।

आरोपियों ने नारे पर जताया था एतराज

मृतक रिंकू के परिजनों के मुताबिक, श्रीराम जन्म भूमि मंदिर निर्माण को लेकर पिछले महीने इलाके में जागरूकता रैली निकाली गई थी। इस रैली में जय श्रीराम के नारों को लेकर आरोपियों से जुड़े लोगों ने एतराज जताया था। उस वक्त आरोपियों ने रिंकू को जान से मारने की धमकी दी थी। लेकिन उस वक्त इलाके के कुछ लोगों के हस्तक्षेप के बाद मामला शांत हो गया था और आपस में समझौता भी हो गया था। पुलिस के मुताबिक, बुधवार की रात घर के पास ही आयोजित जन्म दिन की एक पार्टी में रिंकू और हमलावरों के बीच विवाद हो गया। इसके बाद हमलावरों ने रिंकू पर हमला कर दिया था।