///

इंदौर में 6 बार और पब किए सील, ड्रग्स की शिकायत मिलने पर किया फैसला

कलेक्टर मनीष सिंह ने कहा कि ड्रग्स का धंधा करने वालों को बक्शा नहीं जाएगा।

इंदौर। कलेक्टर मनीष सिंह ने इंदौर के 6 प्रमुख बार और पब के लाइसेंस स्थगित कर दिए हैं। युवा पीढ़ी को बर्बाद करने की कोशिश करने वाले इन सभी बार में जाँच के दौरान 21 साल से कम उम्र के बच्चे नशे में पाए गए थे। कलेक्टर सिंह ने स्पष्ट लहजे में कहा है कि युवा पीढ़ी को नशे की लत लगाने की इजाजत इंदौर में नहीं दी जाएगी। यह हमारी पीढ़ी को बिगाड़ने की हरकत है, जिसे माफ नहीं किया जाएगा।

स्मोकिंग जोन बंद करने के निर्देश

कलेक्टर ने इन पब और बार के लाइसेंस आगामी 31 दिसंबर 2020 तक के लिए स्थगित कर दिए हैं, जिनके लाइसेंस स्थगित किए गए हैं, उनमें विडोरा पलासिया, पिचर्स सी-21 मॉल के सामने, ड्रिंक्स एक्सचेंज सी-21 मॉल के सामने, टीडीएस मल्हार मॉल, कायरो भंवरकुआं और सोशा भमोरी विजय नगर शामिल हैं। कलेक्टर मनीष सिंह ने आबकारी अमले को रविवार को तलब किया और इन सभी पब और बार को सील कर दिया। कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी मनीष सिंह ने एक अन्य आदेश में सभी बार और पब में स्मोकिंग जोन बंद करने के निर्देश दिए हैं। प्रशासन को यह शिकायत मिली थी कि इन पब और बार में स्मोकिंग की आड़ में ड्रग्स की खपत भी कराई जा रही है।

सख्त कार्यवाही की दी चेतावनी

प्रशासन ने चेतावनी दी है कि ऐसे सभी स्थानों में युवाओं को नशे की लत लगाने की किसी भी कोशिश पर सख्त कार्यवाही की जाएगी। कलेक्टर सिंह ने यह चेतावनी भी दी है कि पब और बार में युवा वर्ग की गैर कानूनी मौजूदगी पर भी विधि सम्मत कार्यवाही की जाएगी। गौरतलब है शहर में ड्रग्स और देह व्यापार के धंधे का पर्दाफाश होने के बाद पुलिस और प्रशासन ने सख्त रवैया अख्तियार किया है।