//

धारदार हथियारों से सिक्योरिटी गार्ड को उतारा मौत के घाट

इंदौर। इंदौर शहर के बाणगंगा थाना क्षेत्र में शनिवार रात सिक्युरिटी गार्ड की हत्या कर दी गई। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। मृतक की पीठ पर चाकू के तीन घाव लगे थे। घटना बाणगंगा क्षेत्र में पारलेजी फैक्टरी के नजदीक की है।

अज्ञात व्यक्तियों ने गार्ड को उतारा मौत के घाट

पुलिस के अनुसार गार्ड का नाम देशराज भदौरिया है। लक्ष्मीपुरी निवासी गार्ड की उम्र 52 से 54 के आसपास है। वह एक गुमटी के पास घायल अवस्था में पड़ा था। लोगों की मदद से उसे निजी अस्पताल भेजा गया, लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। सीएसपी निहित उपाध्याय ने बताया कि घटना रात में पारलेजी फैक्टरी के पास की है। यहां 55 वर्षीय देशराज भदोरिया निवासी लक्ष्मीपुरी कालोनी सड़क किनारे लोगों को घायल पड़ा मिला था। उसे रिक्शा में अरविंदो अस्पताल पहुंचाया। यहां डॉक्टरों ने उपचार के दौरान पीठ पर चाकू से वार होने की पुष्टि की, जिसके बाद मामले में पुलिस को सूचना दी गई।

आपसी विवाद और लूट के मामले में पुलिस ने जांच शुरू की हैं

देशराज एक कंस्ट्रक्शन कंपनी में गार्ड का काम करता था। रात में शिफ्ट खत्म होने के बाद वह अपने घर जा रहा था, जिसके बाद रास्ते मे उस पर हमला किया गया। फिलहाल आपसी विवाद और लूट के मामले में पुलिस ने जांच शुरू की हैं। बतादें कि देशराज मूल रूप से बेहराज जिले का रहने वाला है। वह बाणगंगा इलाक़े में 12 साल से किराये के घर मे रहता था। मकान मालिक शंकर तिवारी ने बताया कि उन्हें मोबाइल से कॉल आया था, जिसके बाद पूरे घटनाक्रम की जानकारी मिली। देशराज यहां अपने परिवार के साथ रहता था।