//

संजय राउत ने कहा,’ भगवा और सम्मान से समझौता नहीं, अकेले लड़ सकते हैं चुनाव’

Start

मुंबई । शिवसेना सांसद संजय राउत ने रविवार को साफ कहा कि अगले साल महाराष्ट्र के 10 शहरों में होने वाले चुनाव के लिए उनकी पार्टी सम्मान के साथ गठबंधन चाहती है। यदि ऐसा नहीं हुआ तो वह अपने दम पर मैदान संभालेगी। शिवसेना के भगवा झंडे के साथ कोई समझौता नहीं किया जाएगा। पुणे से सटे पिंपरी-चिंचवड जिले के भोसारी में रविवार को शिवसेना कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए राउत ने यह बात कही। उन्होंने कहा कि पुणे व पिंपरी-चिंचवड क्षेत्र के शिवसेना कार्यकतार्ओं में इस बात को लेकर आक्रोश है कि इन दोनों शहरों में सशक्त राकांपा द्वारा उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली पार्टी की उपेक्षा की जा रही है, जबकि वह राज्य सरकार में साझेदार है। सीएम व शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे की हालिया दिल्ली यात्रा के बारे में पूछने पर राउत ने हल्के फुल्के अंदाज में कहा कि वह दिल्ली के कामकाज के तरीके को जानने के लिए वहां गए थे।

राकांपा को दी चेतावनी

बता दें, पुणे व पिंपरी चिंचवड जिलों में शिवसेना कार्यकतार्ओं में नाराजगी है, क्योंकि राकांपा अगले साल होने वाले निकाय चुनाव को लेकर शिवसेना से रुख नहीं मिला रही है। इसलिए राउत ने राकांपा को चेतावनी देते हुए कहा, हमें परेशान न करें, अन्यथ समस्या हो जाएगी। पुणे के प्रभारी मंत्री व राकांपा नेता अजित पवार भी उद्धव ठाकरे की सुनते हैं, इसलिए स्थानीय राकांपा नेता शिवसेना के साथ तालमेल रखें।