/////

सीएम शिवराज ने कोरोना के खतरे को लेकर किया अगाह, इंदौर कलेक्टर ने कहा महामारी फैलने की गति खतरनाक

Start

इंदौर-भोपाल। मध्यप्रदेश में भी कोरोना की तीसरी लहर आ गई है। यह बात मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार को कन्फर्म की। सीएम ने कहा कि तीसरी लहर तो आ गई है, अब इससे बचना है। उन्होंने कोविड गाइडलाइन का सख्ती के साथ पालन करने की हिदायद प्रदेश की जनता को दी है। सीएम ने यह बात तब कही जब वे सोमवार को भोपाल में 15 से 18 साल तक के बच्चों के टीकाकरण के महाअभियान का शुभारंभ कर रहे थे। मध्यप्रदेश में लगातार बढ़ रहे संक्रमण को लेकर मुख्यमंत्री ने कहा कि 24 घंटों में पूरे मध्यप्रदेश में 221 पॉजीटिव केस आए हैं। इंदौर में 110 और भोपाल में 54 हैं। बाकी जिलों में भी केस बढ़ने लगे हैं। सीएम ने कहा कि मास्क लगाएंगे, दो गज की दूरी रखेंगे और सेनेटाइजर का उपयोग करेंगे तो हम 90 फीसदी तक इस महामारी से बच पाएंगे। इस बीमारी से डरना नहीं है, लड़ना है। हमारी कोशिश है कि कोई आर्थिक गतिविधियां नहीं रोकी जाएं। स्कूल, कॉलेज खुले रहेंगे। वेंटिलेटर से अच्छा है कि हम मास्क लगा लें।

लग सकती है पाबंदियां

बात यदि इंदौर की करें तो यहां कोरोना बेकाबू हो गया है। कलेक्टर मनीष सिंह ने खुद माना है कि जिस गति से केस बढ़ रहे हैं, वो खतरनाक है। दोगुनी-तिगुनी स्पीड से केसेस बढ़े हैं। ऐसी स्थिति में आने वाले समय में पाबंदियां लगाएंगे। शादियों में लिमिट फिक्स करेंगे। बड़े आयोजनों और रैलियों पर रोक लगाएंगे। तीसरी लहर की दस्तक के साथ एक हफ्ते में ही इंदौर की तस्वीर बदल गई है। नए संक्रमितों की संख्या सात दिन में बढ़कर दोगुने से ज्यादा हो गई है। रिकवर होने वालों की संख्या आधी रह गई है। 206 दिन बाद पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा तीन अंकों में आया है। इससे पहले 10 जून 2021 को 117 मरीज मिले थे। शहर में पांच दिन में एक्टिव मरीजों की संख्या बढ़कर पांच गुना हो गई है। अब तक यह संख्या 438 से ज्यादा हो गई है। संक्रमण दर 1.58 फीसदी हो गई है।

परिवार के परिवार संक्रमित

इंदौर में महालक्ष्मी नगर, ब्रजेश्वरी, कैलाशपुरी, सुदामा नगर, खजराना, भंवरकुआ कोरोना के हॉटस्पॉट बन गए हैं। एक महीने पहले इक्का-दुक्का केस मिल रहे थे, लेकिन अब शहर में परिवार के परिवार संक्रमित निकल रहे हैं। दो दिन में 190 पॉजिटिव आए है, जिसमें से नौ परिवारों के 39 लोग शामिल थे। इसमें पति, पत्नी और बच्चे भी हैं।

इंदौर की स्थिति

  • पहली लहर: इंदौर में 25 मार्च 2020 तक केवल 4 कोरोना मरीज थे। 23 अप्रैल 2020 को यही आंकड़ा 1029 पर पहुंच गया था।
  • दूसरी लहर: शहर में दूसरी लहर नवंबर 2021 के अंत और दिसंबर 2021 के शुरुआती दिनों में खत्म हो गई है।
  • तीसरी लहर: 23 दिसंबर 2021 को इंदौर में 13 केस थे। 10 दिन बाद जनवरी 2022 में 438 से ज्यादा एक्टिव केस हैं।

इन कारणों से फैल रहा संक्रमण

  • धार्मिक, सामाजिक व राजनीतिक कार्यक्रमों में काफी भीड़ उमड़ रही है।
  • बाजारों में भी सोशल डिस्टेसिंग का पालन नहीं हो रहा है।
  • लोग मास्क पहनने में लापरवाही कर रहे हैं।

इंदौर में कोविड केयर सेंटर शुरू

इंदौर में 1250 बेड वाला राधा स्वामी कोविड केयर सेंटर शुरू हो गया है। इसके अलावा, अन्य जगह 2500 से ज्यादा बेड वाले कोविड केयर सेंटर बनाए जा रहे रहे है। इंडेक्स अस्पताल में बनाए जा रहे सेंटर में 500 बेड, सेवा कुंज अस्पताल में 300, देपालपुर, महू और सांवेर में 100-100 बेड की क्षमता के सेंटर रहेंगे। मांगलिया में भी 50 बेड का कोविड केयर सेंटर बनाया जा रहा है। राऊ के ट्रेनिंग सेंटर में 100 बेड्स क्षमता वाला सेंटर बनाया जा रहा है। यहां ऐसे मरीजों को एडमिट किया जाएगा, जिनके घरों में होम आइसोलेशन के लिए पर्याप्त जगह नहीं है।

इन बातों का रखें ध्यान

  • भीड़ वाले इलाकों में जाने से बचें।
  • मास्क लगाकर ही बाहर जाएं।
  • बाहर की खाद्य सामग्री को खाने से बचें।
  • पानी खुद की बॉटल से ही पीएं।
  • खुद के टिफिन बॉक्स से ही खाना खाएं।
  • सोशल डिस्टेसिंग का पालन करें।
  • साबुन से हाथ धोते रहें।
  • छींकते खांसते हुए व्यक्ति से दूरी बनाकर रखें।
  • अगर पहले से कोई बीमारी है तो डॉक्टर के सम्पर्क में रहें।
  • 1.58 फीसदी हो गई है इंदौर में संक्रमण दर।
  • 438 से ज्यादा हो गई है इंदौर में एक्टिव मरीजों की संख्या।
  • 206 दिन बाद पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा तीन अंकों में।

कॉर्डेलिया क्रूज फिर चर्चा में

आर्यन खान ड्रग्स मामले के बाद कॉर्डेलिया क्रूज एक बार फिर चर्चा में है। हालांकि, इस बार मामला कोरोना वायरस से जुड़ा हुआ है। मुंबई से गोवा के लिए रवाना हुए इस क्रूज में कोरोना का विस्फोट हो गया है। सबसे पहले क्रूज का चालक दल का एक सदस्य कोरोना पॉजिटिव पाया गया था। फिलहाल क्रूज पर सवार करीब 2000 यात्रियों में से कुल 66 लोगों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। गोवा के स्वास्थ्य मंत्री विश्वजीत राणे ने सोमवार को कहा कि चालक दल के सदस्य की रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर अब सभी यात्रियों की टेस्टिंग की गई है। जिसमें 66 यात्रियों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। ये यात्री मुंबई से गोवा के लिए रवाना हुए थे। मुंबई से गोवा पहुंचे जहाज को को समुद्र में ही रोक दिया गया । बाद मे सभी यात्रियों का टेस्ट कराए जाने की शर्त पर इसको जाने दिया गया। मुंबई में सोमवार को कोरोना के 8082 केस सामने आए हैं। ये एक दिन पहले की तादाद के ही करीब ही हैं।

देश में कोरोना के 33 हजार से ज्यादा नए केस, 123 की मौत

नई दिल्ली। देश में कोरोना संक्रमण के मामलों में अब तेजी से बढ़ोतरी दर्ज की जा रही है। 24 घंटों के दौरान पूरे भारत से कोविड-19 के 33,750 नए मामले सामने आए। जबकि इस दौरान 123 मरीजों की मौत हो गई। मौत के नए आंकड़े सामने आने के बाद संक्रमण से मरने वालों की संख्या देश में 4,81,893 हो गई है। वहीं, कोरोना वायरस के एक्टिव मरीजों का आंकड़ा 1.45 लाख के पार हो गया है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, पिछले 24 घंटों में देशभर में संक्रमण से 10,846 लोग ठीक भी हुए हैं, जिसके बाद कोरोना से अब तक ठीक होने वालों की संख्या 3,42,95,407 हो गई है। वहीं, एक्टिव केस की कुल संख्या 1,45,582 पर पहुंच गई है, जो कुल मामलों का 0.42 प्रतिशत है। देश में दैनिक पॉजिटिविटी रेट 3.84 प्रतिशत है। जबकि विकली पॉजिटिविटी रेट 1.68 प्रतिशत है।