////

बेगमबाग मामला: 36 लोगों के खिलाफ प्रकरण दर्ज, 12 गिरफ्तार, 4 पर लगी रासुका

बेगमबाग मामले में आरोपी का मकान किया था जमीदोज।

उज्जैन। सूबे के मुखिया शिवराजसिंह चौहान ने कुछ दिनों पहले अपराधी प्रवृत्ति के लोगों को साफ चेतावनी दी थी की उनको जमीन में गाड़ दिया जाएगा। संदेश साफ है प्रदेश में अब अपराधियों के हौंसले पस्त किए जाएंगे और उनको किसी भी सूरत मे बक्शा नहीं जाएगा। उज्जैन के बेगमबाग इलाके में हिंदू संगठनों पर पथराव करने के मामले में प्रशासन ने दूसरे दिन ही सख्त कदम उठाते हुए पत्थरबाजों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की थी। पुलिस ने इस मामले की जानकारी देते हुए बताया अब तक 12 लोगों को गिरफ्तार किया गया है और इनमें से 4 के खिलाफ रासुका के तहत कार्रवाई की गई है।

36 लोगों के खिलाफ प्रकरण दर्ज

उज्जैन के बेगमबाग इलाके में उस वक्त माहौल तनावपूर्ण हो गया था जब राम मंदिर निर्माण के लिए हिंदू संगठनों के द्वारा निकाली जा रही रैली पर अल्पसंख्यक इलाके बेगमबाग से पथराव किया गया था। उस वक्त कुछ कार्यकर्ता घायल भी हुए थे और पुलिस को हालत संभालने के लिए मशक्कत करना पड़ी थी। पुलिस ने इस मामले में कार्रवाई करते हुए, जिस अवैध मकान से पथराव हुआ था उसको जमीदोज कर दिया था और अपराधियों पर सख्त कार्रवाई का संकेत भी दिया था। पुलिस ने इस मामले में 12 लोगों को हिरासत में लिया है और 4 लोगों पर एनएसए के तहत कार्रवाई की गई है।

हिन्दू संगठन की रैली पर हुआ था पथराव

पुलिस का कहना है कि इस मामले में 2 लोगों की शिकायत पर करीब 36 लोगों के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया गया है। इलाके में फिलहाल शांति का माहौल है और संवेदनशील इलाका होने की वजह से यहां पर अतिरिक्त पुलिस बल को तैनात किया गया है। क्षेत्र में शांति कायम रखने के लिए पुलिस द्वारा लगातार पेट्रोलिंग कर फ्लैग मार्च निकाला जा रहा है। गौरतलब है हिन्दू संगठन की रैली पर भारत माता मंदिर के पीछे बेगमबाग में कुछ लोगों द्वारा पत्थरबाजी की गई थी जिसमें संगठन के करीब एक दर्जन युवक घायल हुए थे। इसके बाद पुलिस ने कार्रवाई करते हुए पत्थरबाजी में आरोपी भूरू पेंटर के मकान को जमीदोज कर दिया था। इस कार्रवाई का वर्ग विशेष के लोगों ने विरोध भी किया था, लेकिन प्रशासन ने सख्त कदम उठाते हुए अवैध मकान को ध्वस्त कर दिया था।