World Aids Day 2022: क्‍यों मनाया जाता है एड्स दिवस, जानिए इस दिन से जुड़ी अन्‍य जानकारी

Start

World AIDS Day 2022: एचआईवी/ एड्स एक जानलेवा बीमारी है, जिसका अब तक कोई इलाज नहीं है। एचआईवी से संक्रमित होने वाला पीड़ित जीवनभर के लिए इस वायरस से ग्रसित हो जाता है। हालांकि विशेषज्ञों ने एचआईवी से बचने के कुछ उपाय बताएं हैं। वहीं एड्स रोगी के लिए कुछ दवाएं भी हैं, जिसके माध्यम से रोग की जटिलता को कम किया जा सकता है। एड्स को लेकर कई सारे मिथक और गलत जानकारियां भी व्याप्त हैं, जिसे दूर करने और एचआईवी के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए हर साल दुनियाभर में विश्व एड्स दिवस मनाया जाता है।

World AIDS Day 2022: History, significance, and theme | World News – India  TV

इस दौरान लोगों को जानकारी दी जाती है कि एड्स को लेकर बहुत ज्यादा घबराने की जरूरत नहीं है। इस बीमारी में औसत आयु भले ही कम हो जाती है लेकिन पीड़ित सामान्य जिंदगी जी सकता है। एड्स के प्रति जागरूकता और बचाव के तरीके की जानकारी होने के साथ ही यह भी पता होना चाहिए कि एचआईवी का इतिहास क्या है।

हर साल 1 दिसंबर को दुनियाभर में विश्‍व एड्स दिवस (World Aids Day) मनाया जाता है. ये एक ऐसी बीमारी है, जिसे पूरी तरह से ठीक करने के लिए अब तक कोई दवा नहीं बनी. वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन (WHO) की एक रिपोर्ट के अनुसार साल 2021 में विश्व स्तर पर करीब 6,50,000 लोगों की मृत्यु एचआईवी के कारण हुई थी. वहीं भारत सरकार के राष्ट्रीय एड्स नियंत्रण संगठन (NACO) की रिपोर्ट के अनुसार साल 2021 में करीब 42 हजार लोगों की मौत एड्स संबंधित बीमारियों के कारण हुई. ऐसे में दुनियाभर के लोगों को इस बीमारी के प्रति जागरुक करना बहुत जरूरी है. इसी उद्देश्‍य के साथ हर साल विश्‍व एड्स दिवस मनाया जाता है. आइए जानते हैं इस दिन से जुड़ी खास बातें.

World AIDS Day 2022: Current Theme, History, Significance, and Key facts

World Aids Day का इतिहास

वैश्विक स्‍तर पर विश्‍व एड्स दिवस को मनाने की शुरुआत WHO ने 1988 में हुई थी. उस समय के अनुमान के मुताबिक करीब 90,000 से 1,50,000 व्यक्ति एचआईवी पॉजिटिव थे. विश्‍व एड्स दिवस, ग्‍लोबल हेल्‍थ के तौर पर मनाया जाने वाला पहला इंटरनेशनल डे था.1996 तक WHO ने विश्व एड्स दिवस (World AIDS Day 2022) को लेकर सालाना कई सारे कार्यक्रमों का आयोजन किया. उसके बाद संयुक्त राष्ट्र एजेंसी यूएन एड्स ने इन जिम्मेदारियों को अपने हाथों में ले लिया. हर साल इस दिन यूनाइटेड नेशंस की एजेंसियां, सरकारें और लोग एचआईवी से जुड़ी खास थीम पर अभियान चलाने के लिए साथ जुड़ते हैं और लोगों को इस बीमारी के लिए जागरुक करते हैं.

हर साल इस दिन की थीम निर्धारित की जाती है. इस बार विश्व एड्स दिवस की थीम (World AIDS Day theme 2022) इक्विलाइज़ (Equalize) समानता रखी गई है. ताकि समाज में फैली असमानताओं को दूर करके एड्स को जड़ से खत्‍म करने के लिए लोगों को प्रेरित किया जा सके. ये दिन हर उस व्‍यक्ति को याद करने और उन्‍हें श्रद्धांजलि देने का दिन है, जिसने इस घातक बीमारी के कारण अपनी जान गंवाई है.