झाबुआ में फेडरेशन आफ इंडियन एक्सपोर्ट ऑर्गेनाइजेशन द्वारा कार्यशाला का आयोजन

झाबुआ। जिला विकास प्रबंधक नाबार्ड नितिन अलोने ने बताया कि 13 जनवरी 2022 को फेडरेशन आफ इंडियन एक्सपोर्ट ऑर्गेनाइजेशन द्वारा कार्यशाला का आयोजन किया गया।

इस कार्यशाला को सांसद गुमानसिंह डामोर द्वारा कार्यशाला को संबोधित किया। कार्यशाला को उद्योग विभाग, कृषि विभाग, पशुपालन विभाग, मालवा चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री, MSME Development Institute और नाबार्ड के अधिकारियों ने मार्गदर्शन किया। झाबुआ जिले में एक जिला एक उत्पाद के तहत चयनित कड़कनाथ और टमाटर के निर्यात की संभावनाएं और कार्ययोजना पर चर्चा की गई। आयत निर्यात पंजीकर की विस्तृत जानकारी प्रदान की गई। निम्न कार्य बिंदुओं पर संयुक्त रूप से कार्य करने की आवश्कता दर्शाई गई।1. इन उत्पादों के बड़े पैमाने पर उत्पादन और निर्यात हेतु संभावनाओं का अध्ययन फेडरेशन द्वारा किया जाए। 2 वर्तमान में जिले में निर्यात ऋण निरंक है।

जिले के पांच निर्यातक जो फेडरेशन के साथ पंजीकृत है उनकी जानकारी उपलब्ध कराई जाए। इन निर्यातकों से चर्चा की जाए। 3 कड़कनाथ किसान उत्पादक कंपनी का पंजीयन निर्यात हेतु किया जाए 4 पोल्ट्री फीड इकाई हेतु उद्यमियों की पहचान और प्रोत्साहन दिया जाए 5 कड़कनाथ रिसर्च पिदकपदहे को अंतरराष्ट्रीय पत्रिका में प्रकाशित किया जाए जिससे निर्यातकों को सुविधा हो सके। इस व्यय हेतु आवश्यक राशि जुटाई जाए। 6 फेडरेशन की वेब साइट पर कड़कनाथ किसान कम्पनी द्वारा पंजीकरण किया जाए। 7 नेशनल लाइवस्टॉक मिशन के अनुशंसित प्रकारों में बैंक ऋण उपलब्ध कराया जाए। इस योजना में 50 प्रतिशत अनुदान उपल्ब्ध है। 8 जिले में कार्यरत कड़कनाथ उत्पादकों को नियमित रूप से चूजों की आपूर्ति, नरेगा से पोल्ट्री शेड, कृषि विज्ञान केन्द्र से प्रशिक्षण, बाजार में दवाई और फीड की उपलब्धता तथा बैंकों से ऋण सुविधा प्रदान की जाए।

अर्चित अरविन्द डांगी { मध्यप्रदेश, रतलाम }