////

इंदौर में शराब व्यापारी के साथ हुए गोलीकांड में अब तक क्या हुआ

इंदौर गोलीकांड

इंदौर. पिछले दिनों शराब ठेकेदारों में हुए गैंगवार में सिंडिकेट ऑफिस में शराब ठेकेदार अर्जुन ठाकुर पर गोलियां चलाने वाले मुख्य शूटर रितेश करोसिया और चिराग ठाकुर को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पूरे मामले में अब तक 7 आरोपी गिरफ्तार हो चुके हैं, वही फरार आरोपियों की गिरफ्तारी के कई टीमें शहर से बाहर आरोपियों की तलाश कर रही है।

हाल ही में शराब करोबारी पर हुए गोलीकांड के बाद पुलिस शराब सिंडिकेट पर लगे सीसीटीवी कैमरों का डीवीआर जब्त किया था। पुलिस ने घटनाक्रम के कई बार वीडियो फुटेज देखे तो उसमें रितेश करोसिया अर्जुन पर गोली चलाते हुए साफ नजर आया। जिसके बाद से पुलिस फरार आरोपियों की तलाश कर रही थी जिसके लिए कई टीमें जुटी थी।

इस बीच सोमवार को पुलिस को सूचना मिली कि रितेश शिप्रा पुल के पास से गुजरने वाला है। इस पर पुलिस ने नजर रखी तो वह एक ट्रक में दिखा। उसकी घेराबंदी की तो वह तेज रफ्तार ट्रक से कूदा जिससे उसके हाथ-पैर में चोट आई। इसके बावजूद उसने भागने की कोशिश की तो पुलिस ने पीछा कर पकड़ लिया। ऐसे ही आरोपी चिराग ठाकुर के बारे में पुलिस को सूचना मिली कि वह रतलाम में फरार काट रहा है। इस पर टीम वहां भेजी गई और उसे योजनाबद्ध तरीके से पकड़ लिया।

पुलिस अब मुख्य रूप से फरार हेमू ठाकुर की तलाश कर रही है। घटना के दौरान वह भी भाई चिंटू ठाकुर के साथ था। ऐसे ही एके सिंह और पिंटू भाटिया भी पुलिस गिरफ्त से दूर हैं।

मृदुभाषी के लिए इंदौर से चंकी बाजपेयी की रिपोर्ट