//

Tokyo Olympics: डिस्कस थ्रो में मेडल नहीं जीत सकीं कमलप्रीत, फाइनल में छठे स्थान पर रहीं

टोक्यो। टोक्यो ओलिंपिक के 11वें दिन डिस्कस थ्रो में भारत की कमलप्रीत कौर मेडल नहीं जीत सकीं। फाइनल में 6 राउंड के बाद उनका बेस्ट स्कोर 63.70 का रहा और वह छठे स्थान पर रहीं। कमलप्रीत ने 5 में से 2 राउंड में फाउल थ्रो किया। पहले राउंड में उन्होंने 61.62 मीटर और तीसरे राउंड में 63.70 मीटर दूर चक्का फेंका। वे क्वालिफाइंग राउंड के अपने प्रदर्शन को नहीं दोहरा सकीं। क्वालिफाइंग में उन्होंने 64 मीटर की दूरी तक चक्का फेंका था।

पांचवें राउंड में कमलप्रीत ने 61.37 मीटर दूर चक्का फेंका। हालांकि महिला हॉकी में भारतीय टीम ने शानदार प्रदर्शन किया और क्वार्टर फाइनल में ऑस्ट्रेलिया को 1-0 से हराया। टीम ने पहली बार ओलिंपिक के सेमीफाइनल में जगह बनाई है।

कमलप्रीत से पहले कृष्णा पूनिया 2012 ओलिंपिक के फाइनल में पहुंची थीं।

कमलप्रीत ट्रैक एंड फील्ड इवेंट के इतिहास के फाइनल में पहुंचने वाली 7वीं खिलाड़ी रहीं। उनसे पहले सिर्फ 6 एथलीट ही ट्रैक एंड फील्ड की फाइनल में पहुंचे थे। इसमें से 3 महिलाएं रही हैं। यह एथलीट हैं- कृष्णा पूनिया, पीटी ऊषा और अंजू बॉबी जॉर्ज। कमलप्रीत से पहले डिस्कस थ्रो में कृष्णा पूनिया 2012 ओलिंपिक के फाइनल में पहुंची थीं। कमल का मेडल का सपना टूट गया। वे छठे स्थान पर रहीं।