//

यूपी में गैंगस्टर विकास दुबे और श्रीप्रकाश शुक्ला की प्रतिमाएं लगाने का इस शख्स ने किया एलान

दोनों गैंगस्टर को बताया विकास पुरुष।

लखनऊ: उत्तर प्रदेश विधानसभा के चुनाव नजदीक आने के साथ ही सियासत के कई रंग देखने को मिल रहे हैं। सभी पार्टियों ने ब्राह्मण वोट बैंक को रिझाने की कवायद शुरू कर दी है। बहुजन समाज पार्टी ने अयोध्या में ब्राह्मण सम्मेलन का आयोजन किया तो सपा ने पूर्वांचल में ब्राह्मण सभा की घोषणा कर डाली। इस बीच अखिल भारतीय ब्राह्मण महासभा के अध्यक्ष राजेंद्र नाथ त्रिपाठी ने विवादास्पद बयान देकर सनसनी मचा दी है और कहा है कि यदि फूलन देवी की प्रतिमा लग सकती है तो ब्राह्मणों के महापुरुष विकास दूबे और श्रीप्रकाश शुक्ला की प्रतिमा भी लगेगी।

गैंगस्टर को बताया महापुरुष

पिछले दिनों कानपुर के चौबेपुर स्थिति ग्राम बरुआ में भगवान परशुराम मंदिर के भूमि पूजन एवं शिलान्यास कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे अखिल भारतीय ब्राह्मण महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष पं. राजेंद्र नाथ त्रिपाठी ने मंच से एलान किया कि ब्राह्मण महासभा उत्तर प्रदेश में प्रकाश शुक्ला और विकास दुबे की प्रतिमा स्थापित कराएगी। उन्होंने कहा कि जब फूलन देवी और ददुआ जैसे डकैतों की प्रतिमा लग सकती है तो ब्राह्मणों के महापुरुष और वीरता के प्रेरणास्रोत की प्रतिमाएं क्यों नही लग सकती है। पूरा ब्राह्मण समाज इसका समर्थन करता है।

ब्राह्मणों के साथ अन्याय की कही बात

राजेंद्र नाथ त्रिपाठी ने कहा कि यदि विकास दूबे और श्रीप्रकाश शुक्ला गुनाहार थे उन्हें न्यायालय सजा देती। सरकार कौन होती है सजा देने वाली। इन दोनों के साथ अन्याय हुआ है। उन्होंने कहा कि ब्राह्मण समाज को आने वाले विधानसभा चुनाव 2022 में छला जाएगा। उन्होंने खुशी दुबे की गिरप्तारी पर सवाल उठाते हुए कहा कि खुशी का अपराध सिर्फ इतना है कि वह अपराधी की पत्नी है। तीन दिन भी नहीं रही ससुराल में, आज निर्दोष ब्राह्मण की बेटी सलाखों के पीछे से न्याय मांग रही है। उन्होंने कहा कि अब ब्राह्मण समाज को ठगने नहीं दिया जाएगा।