Mradhubhashi
Search
Close this search box.

द्वय मुनिराजो के सानिध्य में मनाया गया रक्षा बंधन के पर्व।

द्वय मुनिराजो के सानिध्य में मनाया गया रक्षा बंधन के पर्व।

मंडलेश्वर: नगर में चातुर्मासरत द्वय मुनिराज के सानिध्य में रक्षा बंधन पर्व बड़े हर्षोल्लास के साथ मनाया साथ ही लाडू समर्पित किया गया। सन्मति काका ने बताया की मंडलेश्वर नगर में चातुर्मास कर रहे मुनि श्री प्रयोग सागर, प्रबोध सागर जी महाराज के सानिध्य में रक्षा बंधन का पर्व बहुत ही हर्षोल्लास के साथ मनाया जिसके अंतर्गत सर्वप्रथम पार्श्वनाथ जिनालय में श्रीजी का अभिषेक पूजन कर श्रेयांश नाथ भगवान को लाड़ू चढ़ाया गया।

इस अवसर परप्रथम शांति धारा करने का शोभाग्य राहुल जैन जबलपुर परिवार व कविस धर्मेन्द्र कुमार जैन मंडलेश्वर परिवार को प्राप्त हुवा एवम श्रेयांश नाथ भगवान के मोक्ष कल्याणक का प्रथम लाडू चढ़ाने का अवसर समाज अध्यक्ष समीर जैन को प्राप्त हुवा। इसी क्रम में मुनिश्री के आशीर्वाद से प्रमुख रक्षा सूत्र राहुल जैन जबलपुर व निलेश जैन मुंबई को प्राप्त हुवा ।

रक्षा बंधन का महत्व बताते हुवे मुनि श्री प्रयोग सागर जी ने बताया की जैनधर्म के 18वें तीर्थंकर भगवान अरनाथ के तीर्थकाल में हस्तिनापुर में बलि आदि मंत्रियों ने कपट पूर्वक राज्य ग्रहण कर अकम्पनाचार्य सहित 700 जैन मुनियों पर घोर उपर्सग किया था, जिसे विष्णुकुमार मुनि ने दूर किया था। यह दिन श्रवण नक्षत्र, श्रावण मास की पूर्णिमा का था, जिस दिन अकम्पनाचार्य आदि 700 मुनियों की रक्षा विष्णुकुमार द्वारा हुई।

द्वय मुनिराजो के सानिध्य में मनाया गया रक्षा बंधन के पर्व।

विघ्न दूर होते ही प्रजा ने खुशियां मनाई, श्री मुनि संघ को स्वास्थ्य के अनुकूल आहार दिया, वैयावृत्ति की, तभी से जैन परंपरा में रक्षाबंधन मनाया जाता है। रक्षाबंधन के दिन जैन मंदिरों में श्रावक-श्राविकायें जाकर धर्म और संस्कृति की रक्षा के संकल्प पूर्वक रक्षासूत्र बांधते हैं और रक्षाबंधन पूजन करते हैं। इस अवसर पर भोपाल, सनावद, बड़वाह,महेश्वर, जबलपुर,सहित सभी स्थानीय समाज जन उपस्थित थे।

ये भी पढ़ें...
क्रिकेट लाइव स्कोर
स्टॉक मार्केट