/

MBBS के छात्रों को पढ़ाया जाएगा पंडित दीनदयाल कि जीवनी का पाठ

भोपाल। कांग्रेस नेता व प्रवक्ता केके मिश्रा ने चिकित्सा शिक्षा विभाग के सिलेबस में होने जा रहे परिवर्तन पर बड़ा हमला बोला है। उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश में सरकार नहीं सर्कस चल रहा है और सुना है कि प्रदेश सरकार चिकित्सा शिक्षा क्षेत्र में क्रांतिकारी परिवर्तन करने जा रही है।

पंडित दीनदयाल का योगदान क्या हैं

केके मिश्रा ने कहा कि आरएसएस के संस्थापक के बाद पंडित दीनदयाल उपाध्याय का जीवन अध्ययन भी चिकित्सा के क्षेत्र में पढ़ाई कर रहे एमबीबीएस के छात्रों को करना होगा। केके मिश्रा ने कहा कि समझ से परे है कि एमबीबीएस के पाठ्यक्रम में आरएसएस संस्थापक व पंडित दीनदयाल का योगदान क्या हैं। उन्होंने आगे कहा कि व्यापम में आगमी 40 सालो तक चिकित्सा शिक्षा को बदनाम कर राज्य सरकार ने कीर्तिमान रचा है। अब आने वाले सालो में किस तरह के चिकित्सक होंगे और उसके क्या घातक परिणाम होंगे किसी से छुपा नही है।

सर्कस का पात्र ही मानते हैं

वही भाजपा ने भी कांग्रेस के आरोपों पर पलटवार किया है। प्रदेश मीडिया प्रभारी लोकेंद्र पाराशर ने कहां की कांग्रेसियों का संकट यह है कि वह नकली गांधी परिवार के पिंजरे में बंद होकर अपने आपको सर्कस का पात्र ही मानते हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेसी विवश है और गुलामी की मानसिकता में जी रहे हैं। पाराशर ने कहा कि कांग्रेसियों को सोचना चाहिए कि महापुरुष देश के होते हैं। किसी पार्टी और संगठन के नहीं।