/

सुमित नागल ने रचा इतिहास, ओलंपिक में मैच जीतने वाले तीसरे भारतीय टेनिस खिलाड़ी बने

Tokyo Olympics 2020: भारत के टेनिस स्टार सुमित नागल ने इतिहास रच दिया है। वे पिछले 25 साल में ओलिंपिक में पहला मैच जीतने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी बन गए हैं। इससे पहले 1996 में लिएंडर पेस ने ये कारनामा किया था। इसके बाद कोई भी भारतीय टेनिस खिलाड़ी ऐसा नहीं कर सका। नागल ने अपने पहले मैच में 2018 एशियन गोल्ड मेडलिस्ट डेनिस इस्तोमिन को 6-4, 6-7(6), 6-4 से हराया।

तीसरे सेट में नागल ने वापसी की और 6-4 से जीत लिया।

नागल ने 2 घंटे 34 मिनट तक चले मैच में शानदार खेल दिखाया। पहला सेट जीतने के बाद उन्हें दूसरे सेट में स्ट्रगल करना पड़ा। हालांकि, इस्तोमिन ने यह सेट 7-6 से अपने नाम किया। तीसरे सेट में नागल ने वापसी की और 6-4 से जीत लिया। अब अगले राउंड में उनका सामना दुनिया के दूसरे नंबर के खिलाड़ी डेनिल मेदवेदेव से होगा। मेदवेदेव ने कजाखस्तान के अलेक्जेंडर बुबलिक को 6-4, 7-6 से हराया। नागल ओलिंपिक में पहला मैच जीतने वाले ओवरऑल तीसरे भारतीय खिलाड़ी हैं। नागल और पेस के अलावा जीशान अली ने 1988 सियोल ओलिंपिक में मेंस सिंगल्स में पराग्वे के विक्टो काबालेरो को हराया था। पेस 1996 ओलिंपिक में ब्रॉन्ज मेडल जीते थे। उन्होंने ब्राजील के फर्नांडो मेलिजेनी को हराकर मेडल जीता था। सोमदेव देववर्मन और विष्णु वर्धन लंदन ओलंपिक 2012 में पहले दौर में ही हार गए थे।