////

Shiv Navratri 2021: महाकाल को चढ़े हल्दी-चंदन के उबटन की श्रद्धालुओं में भारी मांग, इस कार्य में मिलती है सफलता

Start

Shiv Navratri 2021: महाकालेश्वर मंदिर में इन दिनों शिव नवरात्र का पर्व मनाया जा रहा है। इस अवसर पर भगवान को प्रतिदिन चंदन और जलाधारी पर हल्दी का लेपन कर शिवलिंग को स्नान कराया जा रहा है। शिवलिंग पर चढ़े चंदन-हल्दी को लेने के लिए कई श्रद्धालु मंदिर के पुजारियों से संपर्क कर रहे हैं।

हल्दी-चंदन से निखर रहा है महाकाल का रूप

महाकाल मंदिर में इन दिनों भगवान महाकाल का दुल्हा स्वरूप में श्रंगार हो रहा है। महादेव को हल्दी-चंदन का उबटन लगाकर उनका रूप निखारा जा रहा है। इस उबटन को लेने के लिए श्रद्धालुओं की भारी मांग बनी हुई है। श्रद्धालु इसके लिए घर से इस उबटन को तैयार कर ला रहे हैं और महादेव को समर्पित कर रहे हैं। मान्यता है कि भगवान को समर्पित किए गए चंदन-हल्दी के उबटन को लगाने से विवाह में आ रही बाधाओं का नाश होता है।

उबटन से विवाह की बाधाओं का होता है नाश

श्रद्धालु इस दैवीय उबटन को अपने विवाह योग्य लड़के-लड़कियों के लिए घर पर ले जा रहे हैं। महाशिवरात्रि के अवसर पर महाकाल के प्रांगण में शिव नवरात्र मनाने की परंपरा है। इसके अंतर्गत ज्योतिर्लिंग को हल्दी और चंदन का लेप लगाकर स्नान करवाया जाता है और महादेव का दूल्हे के स्वरूप में श्रंगार किया जाता है। महाशिवरात्रि के दूसरे दिन महाकाल को सप्त धान्य के साथ फूलों और फलों का सुंदर सेहरा चढ़ाया जाता है। इस सेहरे के फूल और सप्तधान्य भी श्रद्धालु अपने घरों में समृद्दि के लिए ले जाते हैं।