///

श्योपुर में टूटा 5 साल का रिकॉर्ड, जानिए प्रदेश के मौसम का हाल

Start

भोपाल। मध्य प्रदेश में बीते 15 दिनों से भारी बारिश का दौर जारी है। तेज बारिश के चलते श्योपुर जिले में बीते 5 साल का रिकॉर्ड टूट गया। श्योपुर में रांची के बाद देश में सबसे ज्यादा बारिश रिकॉर्ड की गई। मौसम विभाग ने श्योपुर में भारी से भारी बारिश को लेकर रेड अलर्ट जारी किया है।

पूरे श्योपुर जिले में 2 दिनों से लगातार हो रही बारिश है। श्योपुर और बड़ौदा भारी बारिश के चलते टापू में तब्दील हो गए हैं। मौसम विभाग के मुताबिक, श्योपुर शहर में 148 मिलीमीटर बारिश दर्ज हुई। कदवाल नदी का पानी शहर के ऐतिहासिक किले के गेट तक आ गया। जिले में बाढ़ की स्थिति है।

रीवा जिले में जारी बारिश का कहर

मौसम विभाग ने बताया कि प्रदेश में रीवा, गुना, श्योपुर, सिंगरौली में तेज बारिश से नदी-नाले उफान पर हैं। रीवा जिले में तेज बारिश का सिलसिला जारी है। शहर में स्थित छोटी पुल का जलस्तर लगातार बढ़ रहा हैं। वहीं, गुना जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में पानी भर गया है। सोहागी पहाड़ में भूस्खलन भी हुआ।

रेड और ऑरेंज अलर्ट जारी

मौसम विभाग ने भारी से भारी बारिश को लेकर सतना, गुना, श्योपुर, छतरपुर, टीकमगढ़ जिलो में रेड अलर्ट जारी किया है। भारी से अति भारी बारिश को लेकर शहडोल संभाग के जिलों में रीवा, सीधी, सिंगरौली, पन्ना, दमोह, सागर, नीमच, मंदसौर, अशोकनगर, शिवपुरी ग्वालियर, दतिया, भिंड, मुरैना जिलों में आॅरेंज अलर्ट जारी किया है।

खराब हुआ अनाज, बह गए मवेशी

आवदा डैम ओवरफ्लो होने से करीब 200 लोगों का जीवन दांव पर लग गया। लोगों ने जान जाने के डर के जैसे-तैसे समय बिताया। इनके घरों में पानी घुस गया, पूरा अनाज खराब हो गया और मवेशी बह गए।

चारों ओर से पानी से घिरी बस्ती

पिछले 5 दिनों से लगातार ओवरफ्लो हो रहे आवदा डैम की वजह से कस्बे की सैटलमेंट बस्ती चारों ओर से पानी से घिर गई। बस्ती के आगे बनी सड़क अब तक दीवार का काम कर रही थी, लेकिन, शनिवार को यह सड़क भी टूटकर बह गई। इसके बाद बस्ती के घरों में पानी भर गया। कई ग्रामीणों का राशन, मुर्गे-मुर्गी व अन्य सामान बह गया। प्रशासन की टीमों ने शनिवार की देर रात गांव में पहुंचकर ग्रामीणों को बस्ती से निकालने का काम शुरू किया।

बीते 24 घंटे में बारिश के आंकड़े

मौसम विभाग के मुताबिक प्रदेश में रीवा में 135.4 मिमी, सतना में 76.9 मिमी, सीधी में 71.2 मिमी, खजुराहो में 29.6 मिमी, गुना में 28.1 मिमी, पचमढ़ी में 21 मिमी, सागर में 20.2 मिमी, नौगांव में 14.4 मिमी, रायसेन मे 6.2 मिमी, टीकमगढ़ में 6 मिमी, इंदौर में 5.2 मिमी, भोपाल में 4.6 मिमी, जबलपुर में 3.3 मिमी, रतलाम में 3 मिमी, मंडला में 2 मिमी, होशंगाबाद में 1.6 मिमी, ग्वालियर में 1 मिमी, उज्जैन में 1 मिमी, बैतूल में 0.4 मिमी, शाजापुर में 0.4 मिमी बारिश रिकॉर्ड की गई।