//

उज्जैन के इस्कान मंदिर में निकाली रथयात्रा

रथयात्रा

उज्जैन. शहर के भरतपुरी स्थित इस्कान मंदिर में नैत्र उत्सव मनाया गया। बीमार हुए भगवान जगन्नाथ, बलभद्र और सुभद्रा अब ठीक हो गए है। जिसके बाद उन्होंने भक्तों को दर्शन दिए। साथ ही सोमवार को प्रतिकात्मक रूप से रथ यात्रा भी निकाली गई है। जिसमें बडी संख्या में श्रध्दालु शामिल हुए।

देश में कोरोना संक्रमण के बाद मंदिर खूल गए है। ऐसे में धार्मिक आयोजन और अनुष्ठानों के साथ साथ उत्सवों का दौर भी चल रहा है। इसी के चलते भरतपुरी स्थित इस्कान मंदिर में नैत्र उत्सव का आयोजन सोमवार को किया गया। जिसमें बडी संख्या में श्रध्दालुओं ने भाग लिया।

मंदिर के पीआरओ राघव पंडितदास ने बताया कि बिमारी के बाद ठीक होकर भगवान फिर से प्रकट हुए है। भक्तों ने नेत्रों से भगवान को देखा है। इसलिए नैत्र उत्सव मनाया गया है। साथ ही पुजन पाठ के बाद रथयात्रा का प्रतिकात्मक आयोजन किया गया। शाम 4 बजे से देर रात तक भगवान जगन्नाथ, बलभद्र और सुभद्रा रथ में बैठकर भक्तों को दर्शन देंगे।

उज्जैन से मृदुभाषी के लिए अमृत बैंडवाल की रिपोर्ट