Mradhubhashi
Search
Close this search box.

ओंकारेश्वर रेल सुविधा के अभाव में जन आक्रोश बढ़ा

ओंकारेश्वर रेल सुविधा के अभाव में जन आक्रोश बढ़ा

विपिन जैन/सनावद – क्षेत्र की जनता द्वारा लगातार मांग की जा रही है की सनावद से खंडवा, सनावद से भुसावल तथा इटारसी के लिए रेल यात्री गाड़ी चलाई जाए।प्लेटफार्म एवं ट्रेक के कार्य पूर्ण होने के बाद भी जनता की आवाज को अनसुना किया जा रहा है।सनावद विकास संघर्ष समिति के डॉक्टर राजेंद् पलोड़ ने कहा कि रेलवे अधिकतम सुझाव तो राजस्व घाटा होने के कारण ठंडे बस्ते में डाल देता है, जब सेवा सुविधा या कमाई का अवसर आता है तो विभाग कुंभ करन नींद में सोता रहता है।

इस ट्रैक का सीआरएस होने को ढाई वर्ष हो चुके हैं लेकिन यात्रियों को रेल सुविधा नहीं मिली है रेलवे अधिकारी हर बार तारीख पर तारीख देते रहते हैं। इस बार दो श्रावण मास हैं, रोजाना 25 से 30 हजार श्रद्धालु ओंकारेश्वर ज्योतिर्लिंग दर्शन हेतु आते हैं ,यदि जनता को इटारसी या खंडवा तक रेल सेवाएं प्रदान कर दी जाती हैं तो ओमकारेश्वर पूरे देश से जुड़ सकता था। लेकिन रेलवे ने ना तो कमाई की, न ही पुण्य कमाया।

ओंकारेश्वर रेल सुविधा के अभाव में जन आक्रोश बढ़ा
ओंकारेश्वर रेल सुविधा के अभाव में जन आक्रोश बढ़ा

आसपास के ग्रामीण क्षेत्र के किसान, मजदूर,छोटे व्यापारी और विद्यार्थी सभी लापरवाही से त्रस्त हैं एवं आंदोलन हेतु लगातार दबाव बना रहे हैं ।इसी तारतम्य में निमाड़ खेड़ी में भी विकास एवं संघर्ष समिति का गठन किया गया समिति के सदस्य श्री पारस गुप्ता सुभाष नलगे,रिंकू गुप्ता, गोरी सेजवाल,सूरज गुप्ता, शेखर पाल, विपिन गुप्ता, भागीरथ सोनी, महेश शुक्ला,उमाशंकर मालाकार, सुनील ,विशाल नलगे, दीपक नारायण गुप्ता सहित अनेक सदस्यों ने शीघ्र रेल सेवाएं बहाल करने की मांग की।

साथ ही ग्राम मथेला, सुलगांव ,बागरदा , भोमाड़ा, कोटलया खेड़ी के ग्रामीणों द्वारा शीघ्र जन आंदोलन करने का आग्रह किया गया, क्योंकि रेलवे को आंदोलन की भाषा जल्दी समझ में आती है।इस अवसर पर सनावद विकास संघर्ष समिति के लक्ष्मीकांत राठी जाकिर अमी, राकेश गहलोत,अर्पित कानूनगो, भूपेंद्र चतुर्वेदी, वकील शैलेंद्र सिंह ठाकुर ने शीघ्र पैसेंजर ट्रेन चलाने की मांग करते हुए कहा की शासन एवं रेल विभाग सांसद के आग्रह करने पर भी सुविधा जनता को नहीं दे रहा है यह अत्यंत खेदपूर्ण है।

ये भी पढ़ें...
क्रिकेट लाइव स्कोर
स्टॉक मार्केट