////

पुलिस ने पकड़ा फर्जी ऑनलाइन ट्रांजेक्शन करने वाला हैकर

ऑनलाइन ट्रांजेक्शन में धोखाधड़ी कर करता था खरीदारी।

इंदौर। मध्य प्रदेश में ऑनलाइन ट्रांजेक्शन का जिस तरह से चलन बढ़ता जा रहा है उसी तरह से धोखाधड़ी के मामले भी लगातार सामने आ रहे हैं। इसी कड़ी में खजराना थाना क्षेत्र में किराना व्यवसाई के साथ लाखों रुपए की धोखाधड़ी करने वाले युवक को पुलिस ने गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे पहुंचा दिया है। फिलहाल पुलिस युवक से पूछताछ में कर रही है।

ऑनलाइन ट्रांजेक्शन में की थी धोखाधड़ी

इंदौर के खजराना थाना क्षेत्र में किराना व्यवसाई के साथ ऑनलाइन ट्रांजेक्शन को लेकर धोखाधड़ी का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि क्षेत्र में ईशान गुप्ता नामक व्यक्ति का किराने का व्यवसाय है जहां पर पिछले दिनों सचिन मुकाती नामक व्यक्ति द्वारा 13,0000 रुपए का किराने का सामान खरीदने को लेकर किराना व्यवसाई को लिस्ट दी गई थी। किराना व्यवसाई द्वारा उसे लिस्ट के अनुसार सामान उपलब्ध कराया गया था जिसमें से कुछ सामान बाकी था।

7,000 रुपए का किया था ऑनलाइन पेमेंट

सामान का पेमेंट करने को लेकर आरोपी सचिन मुकाती द्वारा एचडीएफसी बैंक की ऑनलाइन ऐप के माध्यम से शुरुआत में 7,000 रुपए का ऑनलाइन पेमेंट का मैसेज दिखाकर कुछ सामान आरोपी अपने साथ ले गया था, लेकिन जब किराना व्यवसाय के खाते में पैसे नहीं आए तो उन्होंने सचिन मुकाती से बात की तो उसने उन्हें ऑनलाइन मैसेज भी दिखाया इसी बात को लेकर दोनों में काफी बहस भी हुई जिसके चलते आरोपी सचिन मुकाती ने अपने आप को पुलिस अधिकारी का ड्राइवर भी बताया था जिसके बाद व्यवसायिक ने सचिन मुकाती को पकड़कर खजराना थाना ले गए जहां पर सारे फर्जीवाड़े का खुलासा हुआ। बता दें पकड़ाए सचिन मुकाती बाणगंगा थाना क्षेत्र का रहने वाला है और एंबुलेंस संचालक है और एक सॉफ्टवेयर हैकर है पुलिस ने फरियादी की शिकायत पर धोखाधड़ी सहित अन्य धाराओं में प्रकरण दर्ज कर लिया है और आरोपी सचिन मुकाती को सलाखों में पीछे कर दिया है।

गौरतलब है पिछले दिनों इसी तरह से एक महिला भी शहर की कई दुकानों से पेटीएम के सॉफ्टवेयर का उपयोग कर धोखाधड़ी की घटना को अंजाम दे चुकी है लगातार बढ़ते रुपयों के ऑनलाइन ट्रांसलेशन के चलते इस तरह की घटनाएं बढ़ती हुई नजर आ रही हैं पुलिस का कहना है कि इस तरह की घटनाओं से सचेत रहें और ट्रांजेक्शन का पुख्ता सबूत होने के बाद ही खरीदार को माल उपलब्ध कराएं।