/

मुर्गे की मौत पर दर्ज हुआ हत्या का केस, शिकायतकर्ता ने की पोस्टमार्टम की मांग

Start

महाराजगंज: ऐसा तो अकसर सुनने में आता है कि किसी इंसान की हत्या के बाद किसी पर हत्या का केस दर्ज करवाया जाता है और उस आरोपी पर मुकदमा चलाकर सजा भी दी जाती है, लेकिन एक अनोखा मामला सामने आया है, जिसमें एक व्यक्ति ने मुर्गे की मौत के बाद पुलिस थाने में ‘हत्या’ का केस दर्ज कराया है।

मुर्गे की मौत पर हत्या का केस

मुर्गे की मौत पर पुलिस थाने में ‘हत्या’ का केस दर्ज करवाने का मामला उत्तर प्रदेश के महाराजगंज का है। यहां पर एक पूर्व विधायक के बेटे ने अपने मुर्गे की मौत के बाद पुलिस थाने में ‘हत्या’ का केस दर्ज कराया है। मूर्गे की हत्या की शिकायत उसने शहर के सिंदुरिया पुलिस स्टेशन में की है। आरोप है कि मुर्गे को जहर देकर मारा गया है और इसलिए मुर्गे का पोस्टमॉर्टम कराया जाना चाहिए। शिकायतकर्ता राजकुमार भारती पीपारा कल्याण गांव के पूर्व विधायक दुक्खी प्रसाद के बेटे हैं। शिकायतकर्ता का कहा है कि उनके परिवार का जानवरों और पक्षियों से खास लगाव है।

पुलिस ने शिकायत की दर्ज

मुर्गे के मालिक राजकुमार भारती का इस मामले में कहना है कि वह किसी काम से महारजगंज गए थे और उनका बेटा विकास स्कूल गया हुआ था। जब बेटा विकास जब घर लौटा तो उसने देखा कि मुर्गा सांस नहीं ले पा रहा और कुछ ही देर बाद उसकी मौत हो गई। शिकायतकर्ता को शक है कि मुर्गे को किसी ने जहर देकर मारा है। इसलिए वह चाहते है कि मुर्गे का पोस्टमॉर्टम किया जाए। वहीं इस मामले में सिंदुरिया पुलिस थाने के एसएचओ ऋतुराज सुमन यादव का कहना है कि शिकायतकर्ता राजकुमार भारती की शिकायत दर्ज कर ली गई है और मामले की जांच कर ही है, लेकिन मुर्गे की रहस्यमयी मौत और उसके मालिक की माग इलाके में चर्चा का विषय बना हुआ है।