///

मप्र में उपभोक्ताओं को लगा महंगी बिजली का झटका, जानिए नई दरें

Start

जबलपुर। मध्यप्रदेश में बिजली के दाम बढ़ा दिए गए हैं। हाल ही में हाईकोर्ट ने साल 2021-22 में बिजली की दर तय करने पर लगी रोक हटा ली थी। इसके बाद मप्र विद्युत नियामक आयोग ने 300 यूनिट तक बिजली जलाने वाले उपभोक्ताओं के फिक्स चार्ज में बदलाव किया है। आयोग ने घरेलू, कृषि और निकाय क्षेत्रों में पानी व रोड लाइट की बिजली का फिक्स चार्ज बढ़ा दिया है। इसके चलते आम उपभोक्ताओं का बिजली बिल 4 से 20 रुपए तक बढ़कर आएगा। नई दरें 8 जुलाई से लागू होंगी। छह माह पहले ही विद्युत नियामक आयोग ने बिजली की दरों में 1.98 प्रतिशत बढ़ोतरी की थी।

कंपनियों ने की थी यह मांग

प्रदेश की तीनों बिजली कंपनियों की ओर से पावर मैनेजमेंट कंपनी ने नियामक आयोग में बिजली की दरों में 6.23 प्रतिशत बढ़ोतरी की मांग की थी। तर्क दिया था कि 2021-22 के लिए उन्हें कुल 44 हजार 814 करोड़ रुपए की जरुरत है। मौजूदा बिजली दर पर 2629 करोड़ रुपए कम मिलेंगे। इसकी भरपाई के लिए दर बढ़ाने की याचिका लगाई थी, लेकिन नियामक आयोग ने राजस्व अंतर 264 करोड़ रुपए ही मान्य किया। इसकी भरपाई के लिए दर की बजाय फिक्स चार्ज में बढ़ोतरी की है।

इस तरह होगी बिजली बिल की गणना:

0 से 30 यूनिट-3.25 रुपए प्रति यूनिट
-45 रुपए न्यूनतम कनेक्शन चार्ज लगेगा

-0-50 यूनिट तक- 4.13 रुपए प्रति यूनिट
शहरी फिक्स चार्ज-64 रुपए। तीन रुपए बढ़े।
ग्रामीण फिक्स चार्ज-50 रुपए। चार रुपए बढ़े।

51 से 150 यूनिट-5.05 रुपए प्रति यूनिट
शहरी फिक्स चार्ज-109 रुपए। 7 रुपए बढ़े।
ग्रामीण फिक्स चार्ज-90 रुपए। 8 रुपए बढ़े।

151 से 300 यूनिट तक-6.45 रुपए प्रति यूनिट
शहरी फिक्स चार्ज-24 रुपए प्रति 100 वॉट (15 यूनिट)
ग्रामीण फिक्स चार्ज-21 रुपए प्रति 100 वॉट (15 यूनिट)

300 यूनिट से अधिक-6.65 रुपए प्रति यूनिट
शहरी फिक्स चार्ज-25 रुपए प्रति 100 वॉट (15 यूनिट)
ग्रामीण फिक्स चार्ज-23 रुपए प्रति 100 वॉट (15 यूनिट)

ग्रामीण क्षेत्र में अमीटरीकृत उपभोक्ता-500 वॉट तक-5.10 रुपए प्रति यूनिट
प्रति कनेक्शन-98 रुपए (न्यूनतम कोई खपत नहीं करने पर)। 16 रुपए बढ़े।

निकाय व ग्राम पंचायतों में पानी और रोड लाइट के लिए

नगर निगम/कैंटोनमेंट बोर्ड/नगर पालिका/ नगर पंचायत में-5.63 रुपए प्रति यूनिट
स्थाई चार्ज प्रति किलो वॉट-316 रुपए। 10 रुपए प्रति किलो वॉट बढ़े।

ग्राम पंचायत में -5.32 रुपए प्रति यूनिट
मासिक स्थाई चार्ज-144 रुपए प्रति किलो वॉट। 11 रुपए बढ़े।

खेती-किसानी के लिए

300 यूनिट तक-4.69 रुपए प्रति यूनिट
फिक्स चार्ज-53 रुपए प्रति किलो वॉट। 7 रुपए बढ़े।

301 से 750 यूनिट तक-5.72 रुपए प्रति यूनिट
फिक्स चार्ज-64 रुपए प्रति किलो वॉट। 7 रुपए बढ़े।

750 से अधिक यूनिट पर-6.00 रुपए प्रति यूनिट
फिक्स चार्ज-70 रुपए प्रति किलो वॉट। 8 रुपए बढ़े।