/////

विधायक संजय शुक्ला बोले – मंत्री के परिवार द्वारा फिर बेचा गया इंजेक्शन ,CM तत्काल मंत्री सिलावट से इस्तीफा लें

इंदौर। देश में जैसे -जैसे दवाइयों की किल्लत हो रही है वैसे ही कालाबाजारी के मामले बढ़ते जा रहे है। अब तक तो आम इंसान कालाबाजारी कर रहा था । लेकिन अब बड़े -बड़े स्वास्थ्य कर्मी , मंत्रियों के लोग भी दवाइयां,इंजेक्शनों की कालाबाजारी में लिप्त नजर आरहे है। इंदौर के काग्रेस विधायक संजय शुक्ला द्वारा स्वास्थ्य अधिकारी के ड्राइवर द्वारा रेमड़ेसिविर कालाबाजारी में नाम आने के बाद शहर के प्रभारी व केबिनेट मंत्री तुसली सिलावट के इस्तीफे की मुख्यमंत्री से माँग की है।

कांग्रेस विधायक संजय शुक्ला ने कहा कि यह इंदौर के लिए बड़े शर्म की बात है। 10-12 दिन पहले मैंने आरोप लगाया था कि प्रभारी मंत्री जी के परिवार द्वारा इंजेक्शन बेचे जा रहे हैं। परसों रात को विजय नगर चौराहे से पुनीत अग्रवाल पकड़ाया है। उसने बताया कि तुलसी सिलावट की पत्नी के ड्राइवर के साथ वे गाड़ी चलाते हैं। वह लगातार उसी से इंजेक्शन लेकर बेच रहा है। इससे प्रूफ होता है कि इंजेक्शन बेचे जा रहे हैं। इंजेक्शन ब्लैक करने के मामले में एक नगर सैनिक ओर विजय नगर थाने के सिपाही को निलंबित कर दिया गया है। विजय थाने में पकड़ाए डॉ. पूर्णिमा डागरिया के ड्राइवर पुनीत अग्रवाल के बाद कोर्ट पेशी के दौरान वीडियो वायरल हुआ था।

संजय शुक्ला ने कि मुख्यमंत्री से अपील आरोपी पर हो रासुका की कार्रवाई

संजय शुक्ल ने कहा मैं मुख्यमंत्री से मांग करता हूं कि आपने कहा था कि रेमडेसिविर बेचते पाए जाने वाले पर तत्काल आरोपी पर रासुका की कार्रवाई की जाएगी । इसके अलावा रेपिस्ट पर भी तत्काल कार्रवाई करने को कहा था। आपके नेता रेपिस्ट को छुड़वा रहे हैं। टीआई को सस्पेंड करवा रहे हैं। अब विजय नगर टीआई के साथ भी ऐसा ही होने वाला है। आपके सपनों के शहर में पुलिसवालों पर सामत आ गई है। आरोपी यदि सही बोल देते हैं तो आपके नेता उन्हें हटवा देते हैं। कब तक यह चलेगा। हमें महामारी से लड़ने की जरूरत है, लेकिन आपके नेता किसी और काम में लगे हुए हैं। किसी गरीब परिवार के पास एक इंजेक्शन पकड़ाया तो आपने उस पर रासुका लगा दी। अब मंत्री के पत्नी के ड्राइवर को पकड़ा है। अब आप किस पर रासुका लगाएंगे। मेरा सीएम से निवेदन है कि तुलसी सिलावट से तत्काल इस्तीफा लेना चाहिए। क्योंकि मामले में उनके परिवार का नाम आया है।

सिलावट ने कही ये बात

पुरे मामले में मंत्री तुलसी सिलावट ने मीडिया से चर्चा करते हुए बताया कि पुलिस मामले की जांच कर रही है पूरे मामले में निष्पक्ष जांच की जाएगी । जो भी कालाबाजारी का दोषी होगा उसे बख्शा नहीं जाएगा।