//

किसानों की ट्रैक्टर परेड के दौरान लापता हुआ युवक साढ़े सात महिने बाद लौटा घर

Start

जींद: 26 जनवरी को किसानों की ट्रैक्टर परेड के दौरान लापता हुआ युवक सकुशल घर पहुंच गया है। इस साल 26 जनवरी को राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में नए किसान कानून के विरोध में किसान संगठनों ने ट्रैक्टर रैली का आयोजिन किया था।

सामाजिक संस्था को मिला युवक

हरियाणा में जींद जिले के कंडेला गांव का रहने वाला 28 साल का युवक 26 जनवरी को किसानों की ट्रैक्टर परेड के बाद से लापता था। लापता युवक साढ़े सात महीने बाद अपने घर लौटा है। युवक का नाम ब्रिजेंद्र है और वह एक सामाजिक संस्था को कश्मीरी गेट के पास फ्लाइओवर के नीचे मिला। संस्था आश्रय अधिकार अभियान के कोर्डिनेटर साजन लाल ने बताया कि बिजेंद्र उनको परवरी में ही मिल गया था। उस वक्त उसके पैरों में सूजन आई हुई थी और शरीर पर भी काफी चोट के निशान थे।

युवक की मानसिक स्थिति है खराब

कोर्डिनेटर साजन लाल ने बताया कि उसकी मानसिक स्थिति सही नहीं थी इसलिए संस्था ने उसको अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती कराया था। कुछ दिन पहले जब उसकी मानसिक स्थिति ठीक हुई तो उसने अपने घर और परिवार वालों के बारे में बताया। इसका बाद उसके परिजनों को तलाश कर उसको घर पहुंचा दिया। फिलहाल युवक का इलाज चल रहा है। गौरतलब है बिजेंद्र की तलाश के लिए 11 जून को काफी संख्या में कंडेला गांव के ग्रामीण तत्कालीन उपायुक्त आदित्य दहिया से मिले थे और उसका पता लगाने की मांग की थी.