///

कोरोना से निवारण के लिए इंदौर में हनुमानजी का किया अदभुत स्वरूप में श्रंगार

Start

इंदौर। आपदा कितनी ही बड़ी क्यों न हो, इंसान का विश्वास कभी डगमगाता नहीं है। वह अपने इष्ट में आस्था बनाए रखता है और उससे सभी तरह के कष्टों के निवारण की प्रार्थना करता है। इंदौर में कोरोना से मुक्ति के लिए महाबली हनुमान का डॉक्टर स्वरूप में श्रंगार कर कोविड-19 संकट के हरण की प्रार्थना की गई।

डॉक्टर स्वरूप में सजे हनुमान

इंदौर के राजवाड़ा स्थित सुभाष चौक पर श्रीराम भक्त हनुमान का प्राचीन और अनादिकालीन तपेश्वर महादेव मंदिर स्थित है। कोरोना से कराहते इंदौर शहर ने पवनपुत्र हनुमान की शरण ली है और उनका विशिष्ठ स्वरूप में श्रंगार किया है। शहर वासियों की आस्था के केंद्र इस मंदिर में मान्यता है कि हनुमान भक्तों की प्रार्थना जरूर स्वीकार करते है। इसलिए महामारी से मुक्ति की प्रार्थना की कामना करते हुए बजरंगबली का डॉक्टर स्वरूप में श्रंगार किया गया है। इस अवसर पर हनुमानजी से शहर को कोरोना के प्रकोप से मुक्ति दिलवाने की प्रार्थना की गई है।

शहर में कोरोना का कहर

गौरतलब है शहर में अप्रैल की शुरूआत से ही कोरोना ने अपने आगोश में ले लिया था। कोरोना की दूसरी लहर का प्रकोप इतना खतरनाक रहा कि अस्पताल में बेड कम पड़ गए। ऑक्सीजन से लेकर दूसरी मेडिकल सुविधाओं की इस दौरान कमी हो गई और लोग इनके अभाव में दम तोड़ने लगे। स्थिति इतनी भयावह हो गई कि श्मशान घाट तक छोटे पड़ गए। हर तरफ इलाज के लिए लोग भटक रहे थे, लेकिन लॉकडाउन की वजह से अब स्थिति कुछ हद तक नियंत्रण में है और अब सुधार की ओर आगे बढ़ रही है।