Mradhubhashi
Search
Close this search box.

Loneliness : अकेलेपन से बढ़ता है डिप्रेशन, यह 15 सिगरेट पीने जितना जानलेवा

loneliness-causes-depression-in-life

Loneliness : वॉशिंगटन। अमेरिका में व्याप्त अकेलेपन की समस्या स्वास्थ्य के लिए उतनी ही नुकसानदेह है, जितना रोज 15 सिगरेट पीना। अमेरिका के सर्जन जनरल ने इस समस्या को महामारी घोषित करते हुए यह जानकारी दी है। डॉ. विवेक मूर्ति ने अपने कार्यालय की 81 पेज की रिपोर्ट में कहा कि अमेरिका के लगभग 50 फीसदी वयस्कों का मानना है कि वे अकेलेपन Loneliness का अनुभव करते हैं। मूर्ति ने एक इंटरव्यू में कहा कि हम जानते हैं कि अकेलापन Loneliness एक ऐसी आम अनुभूति है, जिसका अनुभव कई लोग करते हैं। ऐसा तब महसूस होता है, जब हमें जीवन में कुछ खालीपन लगता है। यह भी भूख या प्यास की तरह होती है।

समाज से वास्ता कम रखने लगे हैं अमेरिकी

रिसर्च से यह पता चलता है कि हाल ही के दशकों में अमेरिका में लोग धर्म स्थलों, सामुदायिक संगठनों और यहां तक कि अपने परिवार के सदस्यों से भी वास्ता कम रखने लगे हैं। ऐसे लोगों में अकेलेपन की समस्या तेजी से बढ़ रही है। पिछले साठ वर्षों में यहां अकेले रहने वाले लोगों की समस्या दोगुनी हो गई है। लेकिन, यह समस्या तब और बढ़ गई जब कोविड- 19 का प्रसार हुआ। इसके कारण स्कूलों एवं कार्यालयों को अपने दरवाजे बंद करने पड़े। इसके कारण अमेरिका के लाखों लोग अपने रिश्तेदारों या दोस्तों से दूर घर पर ही कैद होकर रह गए।

इस समस्या से पर्दा उठाने जारी की गई एडवाइजरी

मूर्ति ने कहा कि अमेरिका में लाखों लोग निराशा में रह रहे हैं, जो सही नहीं है। इसीलिए मैंने यह एडवाइजरी जारी कर इस समस्या से पर्दा उठाया है। इस घोषणा का उद्देश्य अकेलेपन Loneliness के बारे में जागरूकता लाना है। इससे स्वास्थ्य उद्योग को सालाना अरबों डॉलर का बोझ उठाना पड़ रहा है।

कोरोना ने बढ़ाई समस्या, युवा वर्ग अधिक पीड़ित

रिपोर्ट में पाया गया कि कोरोना काल के दौरान लोगों ने अपने मित्रों से संपर्क खत्म कर लिया था और उनके साथ वक्त बिताने का समय कम कर दिया था। 2020 में अमेरिका के लोगों ने दोस्तों के साथ रोज 20 मिनट का समय व्यतीत किया, जो दो दशक पहले 60 मिनट हुआ करता था। अकेलेपन Loneliness की महामारी विशेषकर 15 से 24 वर्ष उम्र के युवाओं को बुरी तरह प्रभावित कर रही है। पहले की तुलना में अपने दोस्तों के साथ समय बिताने के मामले मैं इनमें 70% की गिरावट आई है।

ये भी पढ़ें...
क्रिकेट लाइव स्कोर
स्टॉक मार्केट