लायंस क्लब ने इको फ्रेंडली गणेश प्रतिमा बनाने का बच्चों को दिया प्रशिक्षण

सनावद। लायंस क्लब सनावद सिटी द्वारा विभिन्न संस्थाओं के तीस से अधिक नन्हें बच्चों को इको फ्रेंडली गणेश जी बनाना सिखाया गया । जिसमें इंदौर से पधारी नेहा खासगी वाला मिस्टी खासगी वाला एंड ऋषभ खासगीवाला ने बच्चों को बताया कि इको फ्रेंडली गणेश जी किस प्रकार से बनाए जाते हैं।

बच्चों को जानकारी होने से समाज मे आगे भी इसका उपयोग बना रहेगा

बतादें कि सम्पूर्ण विधि विस्तारपूर्वक बच्चों को प्रत्यक्ष बनाकर बताई गई। व इसका महत्व बताते हुए नेहा खासगी वाला ने कहा कि हानिकारक केमिकल व पदार्थों से निर्मित असंख्य प्रतिमाओं से विसर्जन के पश्चात पर्यावरण के लिए एक बड़ी समस्या उतपन्न होती थी। इसीलिए ईको फ्रेंडली मूर्तियाँ आजकल उपयोग में लाई जा रही हैं,व छोटे बच्चों को जानकारी होने व प्रेरित करने से समाज मे आगे भी इसका उपयोग बना रहेगा।

आकर्षक व पर्यावरण के लिए हितकर होती हैं

ज़ाकिर हुसैन अमि ने बताया कि क्ले व पेपर मेशी से मूर्ति निर्माण के पश्चात सूखने पर उन्हें आकर्षक एक्रेलिक रंगों से सजाया जाता है। जो आकर्षक व पर्यावरण के लिए हितकर होती हैं।इस गतिविधि में लायन अध्यक्ष श्याम महाजन एवं लायन सचिव हेमलता राका एवं लायन उपसचिव कमल पटेल उपस्थित थे।

बड़वाह से मृदुभाषी के लिए विपिन जैन की रिपोर्ट